आगरा, जागरण संवाददाता। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को आगरा में कई दिनों बाद वायु गुणवत्ता संतोषजनक स्थिति में दर्ज की गई। यहां एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) 96 रहा, जो कि सोमवार के एक्यूआइ 223 से कम रहा। हवा में कार्बन मोनोआॅक्साइड की मात्रा अधिक रही। कई दिनों बाद आगरा को वायु प्रदूषण से कुछ राहत मिली। आगरा सोमवार को देश के प्रदूषित शहरों में दूसरे स्थान पर और उप्र में सबसे अधिक प्रदूषित रहा था।

संजय प्लेस स्थित ऑटोमेटिक मॉनीटरिंग स्टेशन पर एकत्र आंकड़ों के आधार पर आगरा में वायु गुणवत्ता की स्थिति पर सीपीसीबी द्वारा प्रतिदिन शाम को रिपोर्ट जारी की जाती है। सीपीसीबी द्वारा तय मानकों के अनुसार वायु गुणवत्ता एक्यूआइ 0-50 तक रहने पर अच्छी, 51-100 तक रहने पर संतोषजनक, 101-200 तक रहने पर मध्यम रहती है। मंगलवार को हवा में घुली कार्बन मोनोऑक्साइड की अधिकतम मात्रा मानक चार माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर के 43 गुना से अधिक रही। अति सूक्ष्म कणों की अधिकतम मात्रा मानक 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर के तीन गुना से अधिक रही। सीपीसीबी के प्रभारी अधिकारी कमल कुमार ने बताया कि सोमवार रात तेज हवा चलने से हवा में घुली अति सूक्ष्म कणों की मात्रा कम हुई है। कार्बन मोनोऑक्साइड बढ़ने की मुख्य वजह सड़कों पर बढ़ती वाहनों की संख्या और ट्रैफिक का अव्यवस्थित होना है।

यह रही प्रदूषक तत्वाें की स्थिति

मंगलवार

प्रदूषक तत्व, अधिकतम, न्यूनतम, औसत

कार्बन मोनोऑक्साइड, 1, 174, 96

नाइट्रोजन डाइ-ऑक्साइड, 11, 28, 18

ओजोन, 7, 48, 16

अति सूक्ष्म कण, 22, 226, 89

सोमवार

प्रदूषक तत्व, अधिकतम, न्यूनतम, औसत

कार्बन मोनोऑक्साइड, 1, 150, 32

नाइट्रोजन डाइ-ऑक्साइड, 15, 30, 23

सल्फर डाइ-ऑक्साइड, 4, 115, 44

ओजोन, 4, 41, 21

अति सूक्ष्म कण, 80, 303, 223

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस