जागरण संवाददाता, आगरा : हाउस टैक्स जमा न करने वालों के खिलाफ नगर निगम अब विशेष अभियान शुरू करने जा रहा है। करदाताओं के मोबाइल पर मैसेज भेजे जाएंगे। जिससे करदाताओं की संख्या को बढ़ाया जा सके।

नगर निगम ने इस वित्तीय साल में हाउस टैक्स की वसूली का लक्ष्य 60 करोड़ रुपये रखा है। पिछले साल यह 27 करोड़ रुपये था, जिसके मुकाबले 30 करोड़ रुपये खजाने में जमा हुए थे। पिछले दिनों अफसरों ने बैठक की तो पता चला कि निगम में 1.80 लाख करदाता हैं जिसमें 55 हजार ही हाउस टैक्स जमा कर रहे हैं। बाकी के लोगों ने पांच से बीस साल तक का टैक्स जमा नहीं किया है। ऐसे लोगों की सूची तैयार की गई। फिर टोरंट कंपनी से लिए गए बिजली के कनेक्शनों से मिलान किया गया। सूत्रों के अनुसार तीन लाख करदाता चिह्नित किए गए। बड़ी संख्या में करदाता ऐसे निकले, जिन्होंने आजतक टैक्स जमा नहीं किया गया है, जबकि हर साल इन्हें निर्धारित टैक्स अदा करना चाहिए।

अपर नगरायुक्त विजय कुमार ने बताया कि तीन लाख भवन स्वामियों से टैक्स वसूली के प्रयास चल रहे हैं। भेजे जा रहे हैं नोटिस

नगर निगम द्वारा हर दिन 500 से अधिक भवन स्वामियों को नोटिस भेजे जा रहे हैं। जिससे वे टैक्स की अदायगी कर सकें। चल रहा है सर्वे

नगर निगम के 100 वार्ड हैं। पांच साल के भीतर बड़ी संख्या में भवन और दुकानें बनी हैं। इनका असिस्मेंट कराया जा रहा है।

---

- हाउस टैक्स की वसूली पर लगातार ध्यान दिया जा रहा है। नए करदाताओं को जोड़ा जा रहा है। सभी भवन स्वामी टैक्स जमा करें, इसके प्रयास किए जा रहे हैं।

अरुण प्रकाश, नगरायुक्त

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप