आगरा: खंदौली के नाऊ की सराय स्थित मंदिर के पास रहने वाली वृद्ध महिला की शुक्रवार रात को हत्या कर दी गई। उसका शव मंदिर परिसर में पड़ा मिला। पुलिस ने बिना फोरेंसिक टीम बुलाए शव को उठा लिया। अभी महिला की शिनाख्त नहीं हुई है। शनिवार को सुबह एक भक्त मंदिर की सफाई करने पहुंचा था। महिला का शव पड़ा देखकर उसने पुलिस बुला ली। मंदिर में शव मिलने की जानकारी पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि महिला का मुंह खून से सना हुआ था। उसके शरीर पर चोट के निशान भी दिख रहे थे। मंदिर के फर्श पर भी खून पड़ा था। खून सूख चुका था। मंदिर में शव पड़े होने से पुलिस हड़बड़ा गई और आनन-फानन में गहनता से जाच तक करना उचित नहीं समझा। बिना फोरेंसिक जांच के मौके से शव को उठाकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। इसको लेकर ग्रामीणों में आक्रोश था। ग्रामीणों के गुस्से को देखते हुए पुलिस दोबारा घटनास्थल पर पहुंची और वहां से एक-एक जोड़ी लेडीज जेंट्स चप्पलें मिलीं। चप्पलों के पास ही शराब का खाली क्वार्टर और पानी के दर्जनभर खाली पाउच पड़े थे। वृद्धा की उम्र 60 साल के आस-पास थी। पुलिस ने बिना पहचान उसे विक्षिप्त मान लिया। यह कहकर ग्रामीणों को शात करने का प्रयास किया कि महिला विक्षिप्त है। यह मामला हत्या का नहीं लग रहा है। एसओ खंदौली प्रशांत त्यागी का कहना है कि शव की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। पहचान के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। पहचान न होने पर तीन दिन बाद पोस्टमार्टम कराया जाएगा। तब मौत का कारण पता चलेगा।