आगरा, जागरण संवाददाता। धूप निकलने से रविवार को गर्मी और उमस बढ़ गई है। सुबह का तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 48 घंटे बाद मौसम का मिजाज बदल सकता है। तापमान में हल्‍की गिरावट आ सकती है।

आगरा में रविवार को सुबह सात बजे से ही तेज धूप निकल आई है, 10 बजे के बाद तेज धूप से लोग परेशान हैं। गर्मी और उमस से लोग परेशान हैं। न्यूनतम तापमान 26.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 48 घंटे बाद मौसम बदल जाएगा और बादल छा सकते हैं। इसके बाद तापमान में लगातार गिरावट आएगी। इस बार मानसून के सीजन में ठीक ठाक बारिश होने और पहाड़ों पर अभी से ही बर्फबारी शुरू हो जाने का असर मैदानी इलाकों में देखने को मिलेगा। माना जा रहा है कि अक्‍टूबर के आखिर तक हल्‍की गुलाबी सर्दी दस्‍तक दे सकती है। दिन में जरूर धूप तेज लगेगी लेकिन रात में ठंडक का अहसास होगा।

मौसम बदलने से वायरल संक्रमण का खतरा

मौसम का मिजाज लगातार बदल रहा है। इससे वायरल संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है। सरोजनी नायडू मेडिकल कालेज के बाल रोग विभाग के डा. नीरज यादव ने बताया कि इस मौसम में वायरल संक्रमण का खतरा रहता है। सर्दी जुकाम और बुखार से पीड़ित हो सकते हैं। इस मौसम में ठंडे पेय पदार्थ का सेवन करने से बचें, घर में किसी एक व्यक्ति को सर्दी जुकाम है तो परिवार के अन्य सदस्य अपना बचाव करें, मास्क लगाएं।

मौसम का बदलाव कर रहा त्वचा को खराब

आगरा में मौसम में हो रहे लगातार बदलाव का असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। कभी धूप तो कभी बरसात के कारण जहां वायरल के मरीजों में वृद्धि हो रही तो त्वचा संबंधी बीमारियां भी बढ़ रही हैं। पूरा दिन तेज धूप निकल रही है, जिससे उमस काफी है। इस बदलते मौसम से त्वचा संबंधी बीमारियों की मरीजों में वृद्धि हुई है। कुछ लोगों को शरीर पर दाने निकल रहे हैं, जिसमें खुजली है तो कईयों को रूखेपन की शिकायत है। दाद-खाज के मरीज भी बढ़े हैं। जिला अस्पताल में रोजाना 300 से ज्यादा मरीज सिर्फ त्वचा संक्रमण के पहुंच रहे हैं। स्किन स्पेशलिस्ट डा. किंशुक सक्सेना बताते हैं कि बरसात के पानी से त्वचा संक्रमण होता है। अगर बरसात में भीग जाएं तो घर आकर साफ पानी से नहाएं। सूती कपड़े पहनें।

Edited By: Prateek Gupta