जागरण संवाददाता, आगरा: यमुनापार में पानी की समस्या जंग को न्यौता देती है। टेड़ी बगिया स्थित इस्लाम नगर में पानी का बड़ा संकट है। तीन महीने से पानी की सप्लाई नहीं हुई है। 150 घर रोजाना 15 हजार का पानी प्रयोग कर लेते हैं। इतना पैसा खर्च करने पर भी जंग की राह से गुजरना पड़ता है। टैंकर आने पर पानी भरने वाले आपस में झगड़े पर उतारू हो जाते हैं।

इस्लाम नगर के निवासियों का आरोप है कि जल संस्थान के अधिकारियों से कई बार शिकायत की है। लेकिन पानी की लाइन को चेक करने कोई नहीं आया। टैंकरों से पानी की पूर्ति कर रहे हैं। एक टैंकर पानी 300 रुपये में मिलता है। 150 घर 50 टैंकर पानी मंगाते हैं। इस हिसाब से 15 हजार का पानी खरीदते हैं। कुछ समय पहले ही शिकायत के बाद इस्लाम नगर के कुछ हिस्से की पाइप लाइन दुरुस्त की है। अब आधे इस्लाम नगर में सप्लाई हो रही है। आधा इस्लाम नगर पानी को तरस रहा है।

2006 में डाली गई पाइप लाइन

इस्लाम नगर निवासी बाबू खां उसमानी ने बताया कि यहां पर 2006 में पानी की पाइप लाइन डाली गई थी। कुछ वर्ष ठीक सप्लाई हुई। फिर पाइप टूट गई और सप्लाई बंद हो गई। उसके बाद जल संस्थानकर्मियों ने ध्यान नहीं दिया है।

नाई की सराय से आते हैं टैंकर

घर के कामकाज के लिए टैंकर का पानी प्रयोग करते हैं। टैंकर वाले नाई की सराय से पानी भर कर सप्लाई करते हैं।

15 हैंडपंप हैं खराब

पानी की किल्लत से जूझ रहे लोगों को हैंडपंपों भी साथ नहीं दिया। कई वर्ष पहले इलाके में हैंडपंप लगे थे। एक वर्ष में ये हैंडपंप ढेर हो गए। कुछ उखड़ गए और कुछ शो पीस बने हुए हैं। पानी की बड़ी समस्या है। जिस दिन टैंकर खरीदना होता है। काम पर नहीं जाते हैं। छुंट्टी करके ड्रम में पानी भरते हैं।

आस मोहम्मद

टैंकर वाले 20 रुपये में एक ड्रम भरते हैं। एक दिन में तीन से चार ड्रम पानी की खपत हो जाती है। एक टैंकर 300 रुपये का खरीदना पड़ता है।

हनीफ

जल संस्था के अधिकारी व कर्मचारियों से कई बार शिकायत की है। लेकिन कोई सुनवाई नहीं करते हैं। दो महीने पहले इस्लाम नगर के कुछ क्षेत्र की पाइप लाइन सही कर दी है।

अरशद खान

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस