आगरा, जागरण संवाददाता। लव जिहाद का शिकार बनी इरादत नगर की किशोरी मुरादाबाद में कैद थी। बुधवार तड़के पुलिस ने उसे सकुशल बरामद कर मुख्य आरोपित बंटी खान समेत दो को गिरफ्तार कर लिया। अपहरण में सहयोग करने वाले अन्य लोगों की तलाश में अभी पुलिस दबिश दे रही है। तनाव की स्थिति देखते हुए इरादत नगर में पुलिस और पीएसी तैनात है।

इरादत नगर में 13 वर्षीय किशोरी शुक्रवार सुबह टहलने गई थी। इसके बाद वापस नहीं आई। स्वजन ने गांव के ही बंटी खान और पवन कोली के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। घटना को लेकर इरादत नगर में तनाव था। मंगलवार को इस मामले में महापंचायत बुलाई गई थी। पास के गांव रहलई में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद ही पुलिस सक्रिय हुई। मंगलवार को ही मुकदमे में नामजद पवन और अपहरण में सहयोग करने के छह आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पंचायत में किशोरी की बरामदगी को चौबीस घंटे का अल्टीमेटम दिया गया था। पुलिस की सात टीमें तलाश में लगी थीं।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि बालिका को मुरादाबाद में एक किराए के घर में बंधक बनाकर रखा गया था। पुलिस की टीम ने बुधवार तड़के मुरादाबाद में दबिश देकर आरोपित बंटी खान उर्फ आसिफ और उसके साथी सोनू को गिरफ्तार किया। दोनों आरोपितों को जेल भेजा जा रहा है। बालिका का मेडिकल कराया जाएगा। उसके बयान दर्ज होंगे। बयानों के आधार पर और धाराएं बढ़ सकती हैं।

एक माह पहले रची थी साजिश, सीसीटीवी फुटेज से मिले सुराग

टिक टॉक वीडियो और फेसबुक से बालिका को जाल में फंसाने वाला बंटी खान बेहद शातिर है। वह एक माह पहले से पुलिस से बचने के तरीके जानने को क्राइम सीरियल देख रहा था। भागने से पहले ही अपना पुराना मोबाइल बेच दिया था। सिम तोड़कर फेंक दी थी और फेसबुक प्रोफाइल लॉगआउट कर दिया था। एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि मुकदमे में नामजद पवन कोली की गिरफ्तारी के बाद जानकारी हुई कि बंटी शमसाबाद रोड से मारुति वैन से कहीं गया है। इसके बाद पुलिस की टीम सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देखने में लगा दी गईं। इनर रिंग रोड के सीसीटीवी फुटेज में सिल्वर रंग की मारुति वैन एनएच 19 की ओर जाती दिखी। इसके बाद वही मारुति वैन यमुना एक्सप्रेस वे के खंदौली टोल प्लाजा के सीसीटीवी फुटेज में नोएडा की ओर जाती दिखी। कार की नंबर प्लेट के आखिरी चार अंक स्पष्ट थे। आरटीओ से रिकार्ड चेक कराया गया। एक मारुति वैन शमसाबाद की निकली। पुलिस ने मंगलवार को उसके चालक को उठा लिया। उसने बताया कि वह एक युवक को छोड़ने मुरादाबाद गया था। पुलिस को युवक का नाम और नंबर मिल गया। इसके बाद मुरादाबाद से किशोरी बरामद हो गई। वहीं से बंटी और उसके दोस्त सोनू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

रात में ही हटाए इंस्पेक्टर

घटना के बाद ग्रामीणों में इंस्पेक्टर इरादत नगर सूरज प्रकाश को लेकर आक्रोश था। एसएसपी ने बबलू कुमार ने मंगलवार रात को ही उन्हें यहां से हटाकर निबोहरा थाने का चार्ज दे दिया। इरादत नगर थाने में इंस्पेक्टर अपराध के पद पर विनोद कुमार को भेज दिया है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस