आगरा, जागरण संवाददाता। स्वास्थ्य विभाग के तहत संचालित एंबुलेंस कर्मियों की हड़ताल में थोड़ी ढील दी गई है। जिलाधिकारी के आश्वासन के बाद 108 के तहत चलने वाले 34 एंबुलेंस की सेवाएं शुरू करवा दी गईं।हालांकि मरीजों को बुधवार को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

पिछले तीन दिन से मांगों को लेकर चल रही एंबुलेंस कर्मियों की हड़ताल के कारण मरीजों को काफी परेशानी हो रही है। गुरुवार को भी मरीज लेडी लायल अस्पताल और एसएन मेडिकल कालेज में आटो या अन्य साधनों से इलाज के लिए पहुंचे। बुधवार को हुई बरसात ने परेशानियों को बढ़ा दिया था। सबसे ज्यादा परेशानी लेडी लायल में आने और जाने वाली गर्भवती महिलाओं और प्रसूताओं को हुई। डिलीवरी के बाद असप्ताल से अपने नवजात के साथ भीगते हुए आटो में लेकर गईं।

जिलाधिकारी प्रभु एन.सिंह ने जीवनदायिनी 108 102 एएलएस एंबुलेंस कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अरविंद सिंह से बात की, उन्हें आश्वासन दिया कि जल्द ही मांगों पर विचार किया जाएगा। पर मरीजों को होने वाली दिक्कतों को देखते हुए एंबुलेंस सेवाएं शुरू कर दी जाएं। इस पर 108 की 34 एंबुलेंस सेवाएं शुरू कर दी गईं। 102 में 44 एंबुलेंस और एएलएस की दो एंबुलेंस अभी भी बंद हैं। संघ के अध्यक्ष का कहना है कि जब तक मांगे नहीं मानी जाएंगी, तब तक हड़ताल जारी रहेगी, पर मरीजों को दिक्कत नहीं होने दी जाएगी।

 

Edited By: Prateek Gupta