आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा के डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय में 15 जून से सत्र 2022-23 के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो रही है। पहले चरण में वेब पंजीकरण होंगे।पिछले दो सालों में वेब पंजीकरण की संख्या में इजाफा हुआ है। विश्वविद्यालय ने 2020 में वेब पंजीकरण शुरू किया था। वेब पंजीकरण के लिए छात्र को 100 रुपये का शुल्क जमा कराना होता था, जिसे इस साल बढ़ा दिया गया है।

इस सत्र से स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए 200 रुपये और परास्नातक पाठ्यक्रमों के लिए 300 रुपये शुल्क जमा करना होगा। छात्र संख्या का पंजीकरण होने के बाद यह छात्र संबंधित कालेज का फार्म भर सकते हैं। वेब पंजीकरण के आधार पर ही छात्र का प्रवेश आधिकारिक माना जाता है और परीक्षा फार्म भरवाए जाते हैं। प्रवेश समिति की बैठक में फैसला लिया गया कि बीएससी एजी, एमएसजी एजी, बीपीएड, एलएलबी, एलएलएम, बीएएलएलबी, एमएसडब्ल्यू जैसे पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए लिखित परीक्षा होगी।

इसके अलावा उन पाठ्यक्रमों में प्रवेश के इच्छुक अभ्यर्थियों को भी लिखित परीक्षा में शामिल होना होगा, जिनमें आवंटित सीटों के सापेक्ष दोगुने फार्म आएंगे।

सत्र 2020-21

स्नातक में कुल वेब पंजीकरण- 199335

परास्नातक में कुल वेब पंजीकरण- 70358

बीए- 85193 ने कालेजों में रिपोर्ट किया। 74470 ने प्रवेश लिया।

बीएससी- 71425 ने कालेजों में रिपोर्ट किया। 61490 ने प्रवेश लिया।

बीकाम- 61490 ने कालेजों में रिपोर्ट किया। 11464 ने प्रवेश लिया।

सत्र 2021-22

स्नातक में कुल वेब पंजीकरण- 249204

परास्नातक में कुल वेब पंजीकरण- 92787

बीए- 100785 ने कालेजों में रिपोर्ट किया। 93952 ने प्रवेश लिया।

बीएससी- 81888 ने कालेजों में रिपोर्ट किया। 75982 ने प्रवेश लिया।

बीकाम- 17449 ने कालेजों में रिपोर्ट किया। 13810 ने प्रवेश लिया।

आवासीय परिसर में संचालित विभागों में प्रवेश की स्थिति

सत्र 2021-22- 1377

सत्र 2021-22- 1279

सीटों की स्थिति-

आवासीय परिसर में स्नातक पाठ्यक्रमों में- लगभग 5670 सीटें

आवासीय परिसर में परास्नातक पाठ्यक्रमों में- लगभग 3401 सीटें

प्रवेश प्रक्रिया 15 जून से शुरू होगी। अभ्यर्थी 31 जुलाई तक पंजीकरण करा सकेंगे। इस साल शुल्क भी बढ़ा दिया गया है। वेब पंजीकरण से फर्जी छात्रों पर रोक लगी है।

- प्रो. मनु प्रताप सिंह, प्रवेश समन्वयक, डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय, आगरा 

Edited By: Prateek Gupta