आगरा, जेएनएन। थाना बरसाना क्षेत्र के कोसी-नंदगांव रोड पर नंदगांव रजवाह के पास अनियंत्रित वेरना गाड़ी नाले में समा गई। समय पर मदद न मिलने से कार सवार दो लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

राजस्थान के अलवर निवासी वेदप्रकाश मीणा पुत्र बाबूलाल अपने फुफेरे भाई मुकेश पुत्र रामअवतार निवासी रूपवास, अलवर के साथ वेरना कार से कोसी स्थित ससुराल जा रहे थे। बुधवार देर रात उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर थाना बरसाना क्षेत्र की नंदगांव चौकी क्षेत्र में नंदबाबा स्टोन क्रेशर के पास से गुजर रहे नाले में जा समाई। दोनों को गंभीर चोटें आईं और समय पर मदद न मिलने से मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। घटना की जानकारी गुरुवार सुबह सड़क पर आवागमन शुरू होने पर हुई। लोगों ने पुलिस को जानकारी दी, उसने मौके पर पहुंच जेसीबी से कार को बाहर निकलवाया। गाड़ी में मिले पहचान पत्रों के आधार पर पुलिस ने परिजनों को सूचना दी। शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। थाना प्रभारी रवि त्यागी ने बताया कि मृतक मुकेश के पिता रामअवतार ने घटना की तहरीर दी है। तेज गति में गाड़ी होने के कारण अनियंत्रित होकर नाले में गिर गई थी।

टूटी सड़क ने लील लीं जिंदगी

लोगों में जर्जर कोसी नंदगांव रोड चर्चा का विषय बना रहा। उनका कहना है कि गुरुवार को हुई दुर्घटना में प्रमुख कारण रोड में बने गड्ढे हैं। खराब रोड के चलते गाड़ी अनियंत्रित होकर गड्ढे में जा गिरी। इस सड़क पर जान हथेली पर रखकर सफर करना पड़ता है। सड़क के हालात देख लगता है जैसे प्रशासन को बड़ी दुर्घटना का इंतजार है। दस किमी के इस रास्ते में छोटे बड़े हजारों गड्ढे हैं। यहां से लोग जान हथेली पर रखकर यात्रा करते हैं। पूरे रास्ते में लोक निर्माण विभाग ने कहीं भी संकेतक और सूचना पट नहीं लगाए हैं। अधबनी सड़क और डिवाइडर से लोग आए दिन चोटिल होते रहते है। इसके साथ ही जाम की स्थिति बनी रहती है। नंदगांव एवं सुरवारी रजवाहों पर बनीं पुलियाओं की रेलिंग टूटी हुई हैं।

 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस