आगरा (जेएनएन)। पांच दिन बाद खुले बैंकों को लेकर पुलिस अलर्ट थी मगर भारी मात्रा में कैश जमा करने वाले कारोबारी बेफिक्र थे। आगरा में तो एक सराफा कारोबारी बोरे और बैगों में 11 करोड़ रुपये रखकर अकेले ही बैंक पहुंच गया। बैंक के बाहर चेकिंग में पुलिस ने मामला पकड़ा और हिदायत देकर छोड़ दिया।

यह भी पढें -जानिए कैसे बिना एटीएम कार्ड के निकाला जा सकता है पैसा

थाना हरीपर्वत क्षेत्र निवासी सराफा कारोबारी का किनारी बाजार में चांदी कारोबार है। आज सुबह कारोबारी कार से संजय प्लेस स्थित आइसीआइसीआइ बैंक में कैश जमा करने पहुंचे। बैंक के बाहर चेकिंग कर रही पुलिस ने कार की तलाशी ली तो डिग्गी में बोरी और आगे रखे दो बैगों में रुपये भरे मिले। कारोबारी ने बताया कि वे 11 करोड़ रुपये बैंक में जमा करने आए थे। पांच दिन बैंक बंद रहने से कैश अधिक हो गया। इंस्पेक्टर हरीपर्वत ने उन्हें रोक लिया। बिना सुरक्षा के अकेले ही इतना कैश लेकर आने पर भारी नाराजगी जताई। कैश से संबंधित कागजात देखकर उन्हें हिदायत देकर छोड़ दिया। बैंक के अंदर कैश पहुंचाने के लिए पुलिस भी साथ गई।

यह भी पढें -आय घोषणा योजना को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली का बयान

जूते में छिपाकर लाया एक किलो सोना बरामद

दुबई के बाद अब सिंगापुर को तस्करों ने सोने की तस्करी के लिए नया रास्ता बनाया है। कस्टम विभाग की सतर्कता के कारण जूते में छिपाकर लाया जा रहा एक किलो सोना चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पकड़ा गया। बीती रात सिंगापुर से टाइगर एयर का विमान लखनऊ पहुंचा था। यहां कोलकाता निवासी तस्कर रोशन ठाकुर को देखकर सहायक आयुक्त शशि शेखर को उसपर शक हुआ।

यह भी पढें -छोटे शहरों से भी बाहर निकालना होगा काला धन

सहायक आयुक्त ने रोशन के सामान की जांच का एक्सरे देखने के बाद उसे पूछताछ के लिए रोका। जिस पर रोशन हड़बड़ा गया। रोशन की तलाशी ली गई तो उसके दोनो जूतों से 100 ग्राम के 10 बिस्कुट निकले। एक किलो सोना मिलते ही रोशन ठाकुर को गिरफ्त में ले लिया गया। बुधवार को उसे जेल भेज दिया गया।

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस