आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना के कहर से ताजनगरी का पर्यटन उद्योग कराह उठा है। सितारा होटलों में 30 फीसद कमरों की बुकिंग निरस्त हो चुकी हैं। टूर बुकिंग भी 60 फीसद निरस्त हो चुकी है। उद्यमियों को अगले पर्यटन सीजन के भी प्रभावित होने की चिंता सता रही है।

भारत सरकार ने 15 अप्रैल तक सभी विदेशी पर्यटकों को वीजा और ई-वीजा पर रोक लगा दी है। चीन में कोरोना वायरस फैलने के साथ फरवरी से ही विदेशी और भारतीय पर्यटकों की संख्या में गिरावट आना शुरू हो गई थी। इसके बाद भारत सरकार ने इटली, ईरान, जापान और दक्षिण कोरिया के पर्यटकों को वीजा और ई-वीजा जारी करने पर रोक लगा दी थी।

मार्च के अंत तक आगरा में पर्यटन सीजन चलता है, लेकिन इस माह भी स्थिति कुछ अच्छी नहीं है। आने वाले दिनों में यह संकट और गहरा सकता है।

फरवरी में यह रही स्थिति

- वर्ष 2019 की अपेक्षा 2020 में 23614 विदेशी पर्यटक कम आए।

- वर्ष 2019 की अपेक्षा 2020 में 43026 भारतीय पर्यटक कम आए।

यह होंगे प्रभावित

-ताजनगरी में पर्यटन उद्योग पर तीन लाख से अधिक लोग अपरोक्ष रूप से आश्रित हैं।

-हैंडीक्राफ्ट कारोबार से करीब 70 हजार लोग जुड़े हैं।

-करीब दो हजार गाइड हैं, जो प्रभावित होंगे।

-होटल, ट्रेवल एजेंट्स और एयरलाइन बुकिंग प्रभावित होंगी। कर्मचारियों पर विपरीत असर पड़ेगा। प्रमोशन और वेतन प्रभावित होने के अलावा छंटनी हो सकती है।

पिछले कुछ वर्षों में स्थिति (विदेशी पर्यटक)

माह, 2016, 2017, 2018, 2019, 2020

जनवरी, 60036, 80656, 95230, 95718, 83608

फरवरी, 76328, 98382, 112101, 111747, 88133

मार्च, 82652, 107956, 117819, 108373, -

अप्रैल, 44634, 67781, 67774, 58418, -

पिछले कुछ वर्षों में स्थिति (भारतीय पर्यटक)

माह, 2016, 2017, 2018, 2019, 2020

जनवरी, 467581, 450708, 391364, 465176, 323670

फरवरी, 429829, 397463, 394547, 384153, 341127

मार्च, 552532, 473540, 509355, 492380, -

अप्रैल, 415513, 409330, 419949, 327683, -

इस वर्ष मार्च में आए पर्यटक

तिथि, भारतीय, विदेशी, सार्क, कुल

1 मार्च, 18504, 2675, 399, 18504

2 मार्च, 13936, 2243, 383, 16562

3 मार्च, 16092, 2101, 189, 18382

4 मार्च, 12120, 2352, 315, 14787

5 मार्च, 11258, 2660, 248, 14166

6 मार्च, शुक्रवार को साप्ताहिक बंदी

7 मार्च, 13837, 2930, 371, 17138

8 मार्च, 10887, 1208, 209, 12304

9 मार्च, 12966, 1968, 198, 15132

10 मार्च, 8784, 1714, 282, 10780

11 मार्च, 12745, 2277, 178, 15200

बजट क्लास होटलों पर अधिक मार

कोरोना की मार का असर सर्वाधिक बजट क्लास होटलों पर पड़ा है। यह होटल चीन के पर्यटकों के सहारे चल रहे थे। होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश चौहान ने बताया कि बजट क्लास की 90 फीसद तक बुकिंग निरस्त हो चुकी हैं। होटल एंड रेस्टोरेंट ऑनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रमेश वाधवा ने बताया कि 65-70 फीसद तक बुकिंग निरस्त हो चुकी हैं। पिछले 45 वर्षों में पर्यटन उद्योग के लिए यह सबसे खराब समय है।

क्‍या कहते हैं पर्यटन से जुड़े लोग

60 फीसद तक बुकिंग कैंसिल हो चुकी हैं। 40 फीसद बुकिंग में वो विदेशी पर्यटक हैं जो भारत आ चुके हैं। एक सप्ताह बाद 15 अप्रैल तक एक भी विदेशी पर्यटक आगरा में नहीं नजर आएगा। सुधार न हुआ तो स्थिति और बिगड़ेगी।

-राजेश शर्मा, उपाध्यक्ष ली पैसेज टू इंडिया

होटल में कमरों की बुकिंग रोजाना कैंसिल हो रही हैं। अब तक करीब 30 फीसद बुकिंग कैंसिल हो चुकी हैं। भारतीय पर्यटकों से ही अब आस लगी है। 10-15 दिन में कोरोना पर स्थिति स्पष्ट होनी चाहिए। वीजा कैंसिल किए जाने का असर बुरा पड़ेगा।

-हरी सुकुमार, वाइस प्रेसीडेंट ऑपरेशंस होटल जेपी पैलेस

फरवरी में चीनी पर्यटकों और उसके बाद ईरान, दक्षिण कोरिया, इटली और जापान के पर्यटकों के वीजा कैंसिल किए जाने से करीब 40 फीसद तक ब्रिक्री गिरी है। वीजा जारी नहीं करने का असर जुलाई-अगस्त तक देखने को मिलेगा।

-सुनील कुमार, मार्बल एंपोरियम संचालक

कोरोना वायरस के असर के चलते लगातार असाइनमेंट कैंसिल हो रहे हैं। इस बार पर्यटन सीजन करीब एक माह देर से शुरू हुआ था। केवल 40 फीसद काम रह गया है। वल्र्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के कोरोना वायरस को महामारी घोषित करने से स्थिति और पैनिक होगी।

-राजीव सिंह ठाकुर, गाइड

कोरोना के चलते केवल 20 फीसद काम रह गया है। आगरा घूमने वही विदेशी पर्यटक आ रहे हैं, जो भारत आ चुके हैं। भारतीय पर्यटकों पर भी इसका असर पड़ेगा। स्थिति अगर नियंत्रण में नहीं आई तो इसका असर अगले पर्यटन सीजन तक देखने को मिल सकता है।

-प्रहलाद अग्रवाल, अध्यक्ष, आगरा टूरिस्ट वेलफेयर चैंबर 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस