आगरा, जागरण संवाददाता। अलीगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को डिफेंस इंडस्ट्रियल कारिडोर का शिलान्यास किया। यह कारिडोर आगरा से भी होकर गुजरेगा। कारिडोर के लिए तहसील सदर के बिल्हौनी गांव में 150 किसानों की 43.79 हेक्टेअर जमीन चिह्नित की गई है। किसानों को चार गुना मुआवजा मिलेगा।

विकास में भागीदारी के लिए 50 किसान जमीन देने को राजी हो गए हैं। तहसील सदर की टीम किसानों से सहमति पत्र भरवा रही है। जमीन की खरीद 80 करोड़ रुपये में होगी। वहीं जमीन को लेकर डेढ़ दर्जन आपत्तियां आई हैं। तहसील सदर के अफसरों द्वारा आपत्तियों का निस्तारण कराया जा रहा है। यह कार्य इस माह पूरा हो जाएगा। उप्र एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) द्वारा कारिडोर विकसित किया जा रहा है।

हजारों लोगों को मिलेगा रोजगार

बिल्हौनी में सैन्य उपकरणों की फैक्ट्री लगेगी। इससे आसपास के क्षेत्रों का तेजी से विकास होगा। हजारों लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी विकसित होंगे। इससे बेरोजगारी की समस्या से जूझते युवाओं को राहत मिलेगी। उन्हें अपने ही शहर में रोजगार मिल सकेगा, जिससे उन्हें रोजी-रोटी के लिए दूसरे शहरों का रुख नहीं करना पड़ेगा।

कई और क्षेत्रों में जमीन की तलाश

बिल्हौनी गांव के अलावा एत्मादपुर, फतेहाबाद, किरावली तहसीलों में डिफेंस इंडस्ट्रियल कारिडोर के लिए जमीन की तलाश चल रही है। संबंधित तहसीलों के तहसीलदारों से रिपोर्ट मांगी गई है।

किसानों से भरवाएंगे सहमति पत्र

जिलाधिकारी प्रभु एन. सिंह ने बताया कि डिफेंस इंडस्ट्रियल कारिडोर की जमीन फाइनल हो गई है। जल्द ही किसानों से सहमति पत्र भरवाए जाएंगे।

Edited By: Nirlosh Kumar