आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा विकास प्राधिकरण (एडीए) की 42 संपत्तियों को खरीदने के लिए लोगों को बेसब्री से इंतजार है। गुरुवार को हुई निविदा आमंत्रित करने की कार्रवाई के दौरान उनके लिए 297 बिडदाताओं ने 15 करोड़ से ज्यादा की बोली लगाई है। वहीं जूता मंडी की सात दुकानों के लिए भी बोली लगी।

एडीए कार्यक्रम में गुरुवार को विभाग की 100 संपत्तियों की बिक्री के लिए बोली की प्रक्रिया अंजाम दी गई, जिसे एडीए उपाध्यक्ष डा. राजेंद्र पैंसिया, विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) गरिमा सिंह व वित्त नियंत्रक सिद्धार्थ ने अपनी निगरानी में संपन्न कराया। 100 में 42 संपत्तियों के लिए आरक्षित मूल्य 11 करोड़ चार लाख 53 हजार 172 रुपये के सापेक्ष अधिकतम बोलीदाताओं द्वारा लगाई गई बोली के आधार पर संपत्ति का कुल मूल्य 15 करोड़ 83 लाख 35 हजार 369 प्राप्त हुआ, जिसमें चार करोड़ 78 लाख 82 हजार 197 रुपये की वृद्धि हुई है।

सात दुकानों की लगी बोली

वहीं जूता मंडी (शू-प्लाजा) के लिए 154 दुकानों व काउंटर्स के सापेक्ष सिर्फ सात दुकानों के लिए ही सात बोलीदाताओं ने रूचि दिखाई। इसके लिए आरक्षित 76 लाख 14 हजार 624 रुपये 14 पैसे के सापेक्ष 76 लाख 73 हजार 728 रुपये 83 पैसे की बोली लगी, जो 59 हजार 105 रुपये अधिक है। पूरी प्रक्रिया में 16 करोड़ 60 लाख नौ हजार 124 रुपये की बोली लगाई गई।

यह लगी टाप टेन बोली

- दो करोड़ 17 लाख 87 हजार 710 रुपये।

- एक करोड़ आठ लाख 50 हजार 395 रुपये।

- 99 लाख 15 हजार 48 रुपये।

- 64 लाख 20 हजार रुपये।

- 57 लाख 73 हजार 349 रुपये।

- 55 लाख 80 हजार 380 रुपये।

- 53 लाख 31 हजार 168 रुपये।

- 51 लाख 34 हजार 940 रुपये।

- 51 लाख 52 हजार 771 रुपये।

- 49 लाख 25 हजार 88 रुपये।

इन दुकानों की लगी बोली

जी-18, जी-24, जी 45, जी 49, जी 58, जी 63 और फर्स्ट फ्लोर की 153। इनमें सबसे ज्यादा जी 49 की बोली लगाई गई, जो 12 लाख 94 हजार 146 रुपये 77 पैसे थी। वहीं सबसे कम फर्स्ट फ्लोर की 153 शाप की बोली लगी, जो 70 हजार 185 रुपये 15 पैसे की थी।

Edited By: Prateek Gupta