आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण ने एक बार फिर से रफ्तार पकड़ ली है। ऐसे में अब एक बार फिर से पिछले साल जैसे हालात बनते जा रहे हैं। संक्रमण का असर अब रेलवे के रिजर्वेशन काउंटर पर दिखाई देने लगा है। जिन लोगों ने महीनों पहले परिवार के साथ घूमने की याेजना बनाई थी, अब वो अपना योजना निरस्त कर रहे हैं। ऐसे में रिजर्वेशन काउंटर पर टिकट निरस्त कराने वालों की लाइन लग रही है। पिछले सात दिन में 2735 लोगों ने तीन स्टेशन काउंटर से टिकट निरस्त कराई है।

कोरोना संक्रमण फिर से बेकाबू हो रहा है। ऐसे में इसका असर रेलवे पर पड़ने लगा है। पिछले सात दिनों में आगरा के तीन प्रमुख स्टेशनों पर टिकट निरस्त कराने वालों की लाइन लग रही है। हर दिन टिकट निरस्त कराने के लिए यात्री पहुंच रहे हैं। इसमें बड़ी संख्या में वो लोग हैं जिन्हाेंने परिवार के साथ कहीं बाहर जाने की योजना बनाई थी। मगर, अब कोरोना ने फिर से लोगों की यात्रा पर ब्रेक लगा दिए हैं। टिकट निरस्त होने के चलते रेलवे को 7.75 लाख रुपये लौटाने पडे़ हैं। आगरा रेल मंडल के पीआरओ एसके श्रीवास्तव का कहना है कोरोना के चलते लोग एहतियात के तौर पर यात्रा निरस्त कर रहे हैं।

केस- 1 :

माईथान निवासी योगेश गुप्ता काे परिवार के साथ 15 अप्रैल को वैष्णो देवी जाना था। डेढ़ माह पहले टिकट करा ली थीं। मगर, कोरोना संक्रमण को देखते हुए उन्होंने वैष्णो देवी जाने का कार्यक्रम निरस्त कर दिया है।

केस-2 :

रामबाग निवासी आशीष को हरिद्वार कुंभ मेले में परिवार के साथ जाना था। मगर, कोरोना को देखते हुए उन्होंने हरिद्वार जाने का कार्यक्रम निरस्त कर दिया है।

सात हजार से ज्यादा टिकट निरस्त

रेलवे से जुडे़ अधिकारियों के अनुसार पिछले सात दिन में आगरा में ही सात हजार से ज्यादा लोगो ने टिकट निरस्त कराए हैं। इनमें बड़ी संख्या में आनलाइन टिकट निरस्त हुए हैं। जिन लोगों ने स्टेशन पर आकर टिकट बुक किए थे, वो काउंटर पर आकर टिकट निरस्त करा रहे हैं। आनलाइन टिकट बुक करने वाले घर बैठे ही टिकट निरस्त करा रहे हैं।

तारीख - कैंट स्टेशन - फोर्ट स्टेशन - राजा मंडी स्टेशन

01 अप्रैल - 138 - 141 - 167

02 अप्रैल - 86 - 105 - 128

03 अप्रैल - 140 - 126 - 121

04 अप्रैल - 76 - 79 - 78

05 अप्रैल - 186 - 81 - 163

06 अप्रैल - 155 - 119 - 182

07 अप्रैल - 143 - 97 - 224

कुल - 2735 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021