आगरा, अली अब्बास। आगरा में पत्नी का मोबाइल प्रेम और चैटिंग पति के लिए सिरदर्द बन गई। पत्नी के दिन भर मोबाइल में व्यस्त रहने और पति की बातों पर ध्यान नहीं देती थी। इससे दोनों के बीच रार बढ गई। विवाद इतना बढ़ा कि पति ने पत्नी को घर से निकाल दिया। पत्नी मायके चली आई, यहां उसने पति पर शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए महिला थाने में शिकायत कर दी।

मामले के अनुसार शाहगंज इलाके के रहने वाले दंपती की शादी पांच साल पहले हुई थी। पति एक जूता फैक्ट्री में काम करता है। पत्नी ने पति पर मारपीट करके घर से निकालने का आरोप लगाया। उसका कहना था कि चार महीने से मायके में रह रही है, पति उसे ले जाने नहीं आ रहा है। पुलिस ने दोनों को काउंसिलिंग के लिए बुलाया। पति-पत्नी दोनों थाने पहुंचे। पुलिस ने आमने-सामने बैठाकर बातचीत की। पुलिस को पति-पत्नी के बीच झगड़े की असली वजह पता चली।

पति का आरोप था कि पत्नी उससे ज्यादा मोबाइल को समय देती है। सुबह लेकर रात तक मोबाइल पर बातचीत और चैटिंग करती है।जिसके चलते वह सुबह समय से नहीं उठती। इससे उसे अक्सर बिना नाश्ता किए काम पर जाना पड़ता है। पत्नी को कई बार समझाने का प्रयास किया। मगर, जब उसकी अादत में सुधार नहीं हुआ तो मोबाइल पर ज्यादा देर तक बात करने पर रोक लगा दी।जिससे नाराज होकर वह मायके चली गई थी।

पति का कहना था कि गुस्से में वह भी पत्नी को चार महीने लेने नहीं गया। पुलिस द्वारा काउंसिलिंग करने पर पत्नी को भी अपनी गलती का अहसास हो गया था। उसने पति से वादा किया कि वह मोबाइल पर ज्यादा बातचीत और चैटिंग नहीं करेगी।जरूरी होने पर मोबाइल पर बात करेगी। वह मोबाइल से ज्यादा पति को समय देगी। वहीं पति ने भी वादा किया कि वह भी घर लौटने के बाद मोबाइल जरूरी होने पर ही बात करेगा। पुलिस के समझाने पर पति-पत्नी में सुलह हो गई, पति उसे अपने साथ ले गया।

थाने पहुंचने वाले पति-पत्नियों के विवाद में 50 फीसद मामलों में कहीं न कहीं मोबाइल भी एक कारण है। कहीं पर पति मोबाइल पर ज्यादा समय देता है, कुछ मामलों में पत्नी मोबाइल पर ज्यादा समय देती है। जो अक्सर पति-पत्नी के बीच रार का कारण बन जाता है।

अलका सिंह इंस्पेक्टर महिला थाना 

Edited By: Tanu Gupta