आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण से बिगड़े हालात को देखते हुए बैंकों के समय में भी बदलाव किया गया है। राज्यस्तरीय बैंकर्स कमेटी (एसएलबीसी) की वीडियो कांफ्रेसिंग से हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि अब बैंकों का समय सुबह 10 से दोपहर दो बजे तक ही रहेगा। रोजाना महज चार घंटे के लिए ही लोगों को बैकिंग सुविधाएं मुहैया हो सकेंगी।

यह आदेश 22 अप्रैल गुरुवार से लागू होगा और 15 मई तक प्रभावी रहेगा। राज्यस्तरीय बैंकर्स कमेटी के समन्वयक बृजेश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि सुबह 10 बजे से दोपहर दो बजे तक के बैकिंग कार्यकाल के दौरान अभी सिर्फ चार प्रकार की सेवाएं ही मुहैया होंगी। इसके तहत नकद जमा, नकद निकासी, चेकों की क्लेयरिंग, रेमिटेंस और सरकारी लेन-देन ही होंगे। शाम चार बजे बैंक बंद हो जाएंगे। लीड बैंक प्रबंधक सुरेश राम ने बताया कि राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी की बैठक में बैंकिंग समय और सुविधाओं को लेकर निर्णय लिए गए हैं।

50 फीसद कर्मियों से लिया जाएगा काम

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि मौजूदा हालात को देखते हुए बैंकों में 50 फीसद कर्मचारियों से ही काम लिया जाएगा। इस निर्णय पर आल इंडिया नेशनलाइज्ड बैंक आफिसर्स फेडरेशन के राज्य सदस्य अंकित सहगल ने स्वागत किया है। उनका कहना है कि संक्रमण काल में लगातार बैंक कर्मी संक्रमित हो रहे हैं। इस निर्णय के बाद राहत मिलेगी।

केवल जरूरी काम के लिए जाएं बैंक

बैंकों में भीड़ नियंत्रित करने के लिए ग्राहकों से केवल जरूरी काम से बैंक आने की अपील की गई है। जो लोग इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं, वो बैंक की बजाए इस सुविधा का प्रयोग करें। बैंक में भीड़ होने के कारण संक्रमण का खतरा बना रहता है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप