आगरा, जागरण संवाददाता। चिराग तले अंधेरा, जी हां यह कहावत सरकारी कार्यालयों पर बिल्कुल सटीक बैठती है । पुलिस प्रशासन कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए मास्क और 2 गज के शारीरिक दूरी के पालन पर विशेष ध्यान दे रहा है लेकिन सरकारी कार्यालयों में बिना मास्क के लोग घूमते रहते हैं जिन पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। इन कार्यालय में प्रमुख रूप से आगरा विकास प्राधिकरण, कलेक्ट्रेट, तहसील सदर, कमिश्नरी और नगर निगम शामिल हैं।

कलेक्ट्रेट और तहसील में नहीं हो रही थर्मल स्क्रीनिंग

कलेक्ट्रेट व तहसील सदर में कहने के लिए हेल्पडेस्क गठित है लेकिन मुख्य गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग नहीं की जा रही है वही आगरा विकास प्राधिकरण और नगर निगम में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति की थर्मल स्क्रीनिंग की जाती है।

हर दिन पहुंचती है भीड़

कलेक्ट्रेट में कई कार्यालय है इसके चलते हर दिन 1500 से लेकर 2000 लोगों की भीड़ पहुंचती है। वहीं नगर निगम में 1200 से लेकर 1700 लोग पहुंचते हैं। अगर तहसील सदर की बात की जाए तो लोगों की संख्या 2000 के आसपास है।

इसलिए जरूरी है मास्क पहनना

जिले में हर दिन कोविड के मरीजो की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। 400 से 450 के आसपास नए कैस रहे हैं जबकि 3 से 4 लोगों की मौत हो रही है। ऐसे में संक्रमण की रफ्तार को रोकने के लिए सिर्फ मास्क ही ऐसा कारगर उपाय है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021