आगरा, जागरण संवाददाता। दस्तावेज लेखक हरेश पचौरी हत्याकांड में रिमांड पर लिए गए शूटर सचिन कंजा ने पुलिस को बताया कि पचौरी की हत्या सुपारी लेकर की थी। हरेश की हत्या की सुपारी उसे भानू प्रताप और विष्णु प्रकाश रावत ने दी थी। पुलिस गुरुवार काे शूटर से पिस्टल बरामद करने का प्रयास करेगी। आरोपित सचिन कंजा ने पुलिस को ज्यादा जानकारी नहीं दी। पुलिस को उतना ही बताया जितना उसे बाकी आरोपितों से जानकारी मिली थी।

सदर के राजपुर चुंगी पर 19 दिसंबर 2020 को दस्तावेज लेखक हरेश पचौरी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। बाइक सवार हमलावरों ने हरेश को तीन गोलियां मारी थीं। दिनदहाड़े दुस्साहिक वारदात से व्यस्त रोड पर अफरातफरी और दहशत फैल गई थी।

मामले में विष्णु प्रकाश रावत और भानू प्रताप मुदगल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने छानबीन के बाद विष्णु प्रकाश और उसके भतीजे सोनू को गिरफ्तार करके जेल भेजा था। जबकि भानू प्रताप मुदगल ने अदालत में समर्पण किया था। वहीं शूटर आकाश को हरियाणा पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

शूटर सचिन कंजा को दिल्ली में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने उसे रिमांड लेने के लिए अदालत में प्रार्थना पत्र दिया था। अदालत ने पुलिस को बुधवार को पुलिस काे 30 घंटे के लिए सचिन कंजा का रिमांड स्वीकृत किया था। पुलिस ने उसे बुधवार को उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू की। पुलिस की पूछताछ में शूटर ने बताया कि दस्तावेज लेखक हरेश पचाैरी की हत्या के लिए उसे भानू प्रताप और विष्णु प्रकाश रावत ने सुपारी दी थी। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमाेद ने बताया कि सचिन कंजा पेशेवर है। घटना के बाद वह कहां-कहां जाकर छिपा था। इसकी जानकारी की जा रही है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021