आगरा, जागरण संवाददाता। समाजवादी पार्टी के नेता व सांसद आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्लाह आजम खान की रिहाई की मांग को लेकर ताजनगरी में आवाज उठने लगी है। पार्टी कार्यकर्ताओं ने दोनों नेताओं को जेल से जल्द रिहा करने की मांग की है। ऐसा न होने पर उन्होंने आंदोलन की चेतावनी दी है।

समाजपादी पार्टी के पूर्व महानगर अध्यक्ष रईसउद्दीन का कहना है कि भाजपा सरकार अल्पसंख्यकों पर निशाना साध रही है। मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी को तबाह करने की साजिश की जा रही है। कहा कि सांसद आजम खान रामपुर को तालीमी पहचान देना चाहते हैं। सरकार उनके इस मंसूबे पर पानी फेर रही है। पिछले दिनों यूनिवर्सिटी की लगभग 1400 बीघा जमीन पर सरकार ने अपना कब्जा करने का एलान किया। उन्होंने कहा कि सरकार जौहर यनिवर्सिटी पर बेवजह शिकंजा कसना बंद करे। आजम खान शिक्षा की अलख जगाना चाहते हैं। युवाअेां को बेहतर शिक्षा उपलब्ध हो सके, इसके लिए प्रयासरत हैं लेकिन सरकार इसके उलट काम कर रही है। जौहर यूनिवर्सिटी को खत्म करने पर तुली है। इससे क्षेत्र के युवाअेां का काफी नुकसान होगा। उन्होंने आजम खान और अब्दुल्लाह आजम खान को जल्द रिहा करने की मांग की। ऐसा न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि सरकार यदि दोनों को जेल से बाहर नहीं निकालती है तो सपा कार्यकर्ता सड़कों पर उतरकर आंदोलन करेंगे। सरकार के खिलाफ होने वाले इस आंदोलन में युवा में भी शामिल होंगे। पिछले इस मांग को लेकर उन्हेांने प्रदर्शन भी किया था। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप