आगरा, जागरण संवाददाता। फतेहाबाद रोड स्थित पीएसी ग्राउंड में निर्माणाधीन स्ट्रीट कैफे का चैप्टर क्लोज हो गया है। कैफे का मलबा जल्द नीलाम किया जाएगा। एडीए ने इसका प्रस्ताव बनाना शुरू कर दिया है। यह कार्य तीन सप्ताह में पूरा हो जाएगा। ताजनगरी में हर दिन 25 हजार के करीब पर्यटक आते हैं। यहां पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर का कोई रेस्टोरेंट व कैफे नहीं हैं। सपा शासनकाल में पीएसी ग्राउंड में स्ट्रीट कैफे बनाने का प्रस्ताव तैयार हुआ था। 36 करोड़ रुपये से दो रेस्टोरेंट, आठ फूड स्टाल, काफी शाप्स प्रमुख रूप से शामिल था। तीन साल पूर्व रक्षा संपदा विभाग की आपत्ति के बाद काम बंद हो गया था। एडीए सचिव राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि जल्द ही स्ट्रीट कैफे का मलबा नीलाम किया  जाएगा। 25 फीसद के आसपास काम पूरा हुआ है। 

25 मई 2016 से शुरू हुआ था निर्माण  

एडीए ने 25 मई 2016 को निर्माण कार्य शुरू कराया। 13 अप्रैल 2017 तक स्ट्रीट कैफे बनकर तैयार होना था, लेकिन तीन फरवरी 2017 को रक्षा संपदा विभाग ने खुद की जमीन बताई। पीएसी ग्राउंड में 7120 वर्ग मीटर जमीन है जिसमें 2848 वर्ग मीटर में स्ट्रीट कैफे बनाया जा रहा है। 

24.31 करोड़ रुपये की है जमीन 

पीएसी ग्राउंड स्थित जमीन का सर्किट रेट चालीस हजार रुपये प्रति वर्ग मीटर है। 6077 वर्ग मीटर के हिसाब से 24.31 करोड़ रुपये की जमीन है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस