आगरा, जेएनएन। मथुरा के थाना गोविंद नगर की महाविद्या कालोनी में पुत्री के प्रेमी को ही फंसाने के दंपती ने खुद ही अपने मकान में आग लगाई थी। सुबह करीब चार बजे दोनोंं अपने किराए के मकान में आग की लपटों से घिरे हुए थे। पुलिस ने पड़ोसियों की मदद से उन्‍हें बाहर निकाला था। पति-पत्‍नी 35 फीसद झुलस गए थे।

महाविद्या कॉलोनी निवासी संजीव चौरसिया और उनकी पत्नी भगवती चौरसिया दोनों अपने कमरे में थे और अंदर से धुंआ उठ रहा था। चीख पुकार सुनकर आए पड़ोसियों ने दोनों को बाहर निकाला और घटना की सूचना थाना गोविंद नगर पुलिस को दी। पुलिस ने दोनों को घायल अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती कराया। दमकल ने आग बुझाई। संजीव चौरसिया की पुत्री कुसुम ने बताया था कि उसके दो भाई बहन दिल्ली में रह रहे हैं। वह चामुंडा कालोनी में कल अपने रिश्तेदार के घर गई थी। सोमवार सुबह मालूम हुआ कि उसके माता पिता को किसी ने घर आग लगाकर मारने की कोशिश की है। बाहर से दरवाजा बंद कर आग लगा दी थी। सीओ सिटी वरूण कुमार ने बताया घटना की जांच की गई तो दंपति और उसकी पुत्री की कहानी झूठी निकली। दरअसल, दंपती की एक पुत्री पिछले दो-तीन साल से अपने प्रेमी के साथ आ जा रही थी। बीच मेंं दोनोंं के संबंध खराब हो गए। इसलिए दंपती ने प्रायोजित तरीके से अपनी पुत्री के प्रेमी को फंसाने के लिए ये षड्यंत्र रचा। उन्होंने ही अपने घर में खुद आग लगाई थी। बाहर से दरवाजा बंद होने की बात भी झूठी निकली। इस मामले में आरोपी दंपती के खिलाफ झूठी सूचना देने और खुदकुशी करने के प्रयास करने के मामले रिपोर्ट कराने की कार्रवाई कराई जा रही है। दोनों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस