आगरा, जागरण संवाददाता। सिकंदरा हाईवे स्थित शू मैटेरियल और केमिकल फैक्ट्री में सात सितंबर को हुए भीषण अग्निकांड की जांच कर रही समिति ने लाइसेंस जारी करने वाले विभाग से फैक्ट्री का साइट प्लान मांगा है । जो कि फैक्ट्री मालिकों ने लाइसेंस के लिए आवेदन करते समय विभाग को दिया था ।

सिकंदरा हाईवे स्थित शू मैटेरियल और केमिकल फैक्ट्री में सात सितंबर को भीषण आग लग गयी थी । जिसे 15 दमकलों ने दस घंटे की मशक्कत के बाद किया था । डीएम प्रभु एन सिंह ने फैक्ट्री में हुए भीषण अग्निकांड को गंभीरता से लेते हुए पुलिस-प्रशासन, अग्निशमन, विद्युत विभाग के अधिकारियों की समिति को जांंच समिति बनायी है । समिति ने अपनी जांच में सभी बिंदुओं पर जांच शुरू कर दी है । फैक्ट्री मालिक से केमिकल के कारोबार से संबंधित रिकार्ड मांगे है ।

जांच के बिंदु

1-कौन-कौन से केमिकल का कितनी मात्रा में भंडारण था ।

2-फैक्ट्री की इमारत का नक्शा पास था कि नहीं ।

3-केमिकल कारोबार का लाइसेंस था या नहीं ।

4-विभाग ने कितनी क्षमता के केमिकल भंडारण का लाइसेंस दिया था ।

5-आग से बचाव के इंतजाम के लिए अग्निशमन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र कब लिया था ।

6-विभाग से केमिकल कारोबार के लाइसेंस का नवीनीकरण कब कराया गया था ।

7-फैक्ट्री में जिस बड़े पैमाने पर केमिकल का कारोबार था, इसके हिसाब से आग से बचाव के क्या इंतजाम किए गए थे ।

8-फैक्ट्री परिसर में कितनी फर्म चल रही थीं ।

9-फैक्ट्री के श्रमिकों को केमिकल के काम से संबंधित प्रशिक्षण दिया गया था । 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस