आगरा, जागरण संवाददाता। देश को अखंड बनाने और युवा पीढ़ी को इसका संकल्प दिलाने के लिए विहिप, बजरंग दल द्वारा स्थापना दिवस और अखंड भारत दिवस के संयुक्त कार्यक्रम प्रखंड स्तर आयोजित किए गए। नौ अगस्त से चल रहे आयोजनों का समापन हो गया है। इस अवसर पर कई प्रखंडों में श्रीराम नामी कीर्तन, गोष्ठी का आयोजन हुआ।

मधुनगर के दुर्गा मंदिर डिफेंस एस्टेट में आरएसएस के प्रांत विशेष संपर्क प्रमुख अशोक कुलश्रेष्ठ का कहना था कि इतिहासकारों के अनुसार 1947 में विशाल भारतवर्ष का पिछले दो हजार पांच सौ सालों में हुआ 24वां भौगोलिक विभाजन था। धार्मिक आस्था से जुड़े लोग अखंड भारत के तौर पर वाल्मीकि रामायण के नवदीप भारत की कल्पना करते हैं। इस अवसर पर मौजूद सभी को विहिप की रीति नीति से अवगत कराया गया और साथ ही अखंड भारत का संकल्प दिलाया गया। इस दौरान दिग्विजयनाथ तिवारी, राजवीर सिंह, अनूप वर्मा, अनुपम पंडित, लक्ष्मण कुशवाह, अभिषेक शर्मा, जितेंद्र, लोकेंद्र आदि मौजूद थे। कहरई क्षेत्र में नालंदा नगर में कार्यक्रम आयोजित किया गया। यहां मुख्य वक्ता बजरंग दल प्रांत सहसंयोजक दिग्विजयनाथ तिवारी ने अखंड भारत संकल्प दिवस पर युवाओं को अखंड भारत का संकल्प दिलाया। इस दौरान रामू, नितिन, कुनाल आदि मौजूद थे। आवास विकास सेक्टर छह में विहिप प्रांत उपाध्यक्ष सुनील पाराशर ने पौधरोपण कर अखंड भारत का संकल्प दिलाया। इस दौरान करन गर्ग, सोनू दीक्षित, शिवम दुबे आदि मौजूद थे।

संघ ने वर्चुअल दिलाया संकल्प

संक्रमण काल में आरएसएस की शाखाएं नहीं लग रही हैं, ऐसे में संगठन ने वर्चुअल माध्यम से शाखा स्तर पर अखंड भारत संकल्प दिवस के आयोजन किए और सभी स्वयंसेवकों को संकल्प दिलाया। छावनी महानगर के रुद्राक्ष नगर में विभाग कार्यवाह पंकज खंडेलवाल ने कहा कि ये हमारा ही नहीं महर्षि अरविंद की भविष्यवाणी, वीर सावरकर और संघ के सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों का संकल्प है। इसे पूरा करने के लिए सभी जुटे हैं और कार्य करते रहेंगे। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस