आगरा, जागरण संवाददाता। पूरा आगरा जहां राहत की सांस ले रहा था, वहीं आफत की फिर एक बात आ गई है। ताजनगरी में एक और कोरोना संक्रमित मिला है। इस बार चिकित्सक दंपती के पुत्र को संक्रमण मिला है। वे बेटे को घर पर रखे थे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पूरा अस्पताल परिसर क्वारंटाइन कर दिया है। अब आगरा में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर नौ हो गई है।

आगरा में गुरुवार शाम को यह केस रिपोर्ट हुआ है। बाईपास रोड स्थित एक प्राइवेट हॉस्पीटल का संचालन चिकित्सक दंपती करते हैं। इनका पुत्र 20 मार्च को अमेरिका से दुबई होते हुए भारत लौटा है। 21 मार्च को वह आगरा पहुंचा। तब से डॉक्टर दंपती बेटे को घर में ही रखे थे। बताया जा रहा है कि इसे जुकाम और बुखार की शिकायत हुई तो डॉक्टर दंपती उसका इलाज अपने ही अस्पताल करते रहे।

इधर आगरा का स्वास्थ्य विभाग आठ केस पॉजीटिव निकलने पर पहले से ही सक्रिय चल रहा है। हाल-फिलहाल यात्रा करने वालों की ट्रेवल हिस्ट्री तलाशी जा रही है। इसी हिस्ट्री के आधार पर टीम चिकित्सक दंपती के अस्पताल पर पहुंची। बेटे के बारे में पूछताछ की, उसके स्वास्थ्य की जांच की गई तो बुखार निकला। कोरोना टेस्ट कराया गया तो उसकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिलाधिकारी प्रभु एन. सिंह ने भी इस बारे में पुष्टि की है।

इसके बाद चिकित्सक दंपती के पूरे परिसर को सेनेटाइज कराया गया है। इस अस्पताल में तीन मरीज भी भर्ती थे और उनके साथ तीमारदार भी। कुल मिलाकर हॉस्पीटल से डॉक्टर दंपती, मरीज, तीमारदार एवं स्टाफ सदस्यों समेत 25 लोगों को एसएन मेडिकल कॉलेज स्थित आइसोलेशन वार्ड में ले जाया गया है। यहां सभी का कोरोना टेस्ट कराया जा रहा है।

इससे पहले बेंगलूरू की युवती निकली थी संक्रमित

इससे पहले रेलवे कॉलोनी स्थित पिता के घर पहुंची बेंगलूरू की युवती को संक्रमण 13 मार्च को पाया गया था। उसके बाद से लेकर अब तक कोई केस नहीं मिला था, हालांकि रोजाना दर्जनों लोगों के टेस्ट हो रहे हैं।  

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस