मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

आगरा, जेएनएन। दुनिया का खौफ कहें या रिश्‍ते काेे बचाने की जंग कि साथ जीने मरने की कसमेंं खाने वाले प्रेमी युगल ने मौत का रास्‍ता अपना लिया। 16 अगस्‍त से गायब चल रहे प्रेमी युगल ने पेड़ पर फंदा लगाकर फांसी लगा ली। बताया जा रहा है कि परिजनों द्वारा शादी कराने से इंकार करने पर प्रेमी युगल ने दुपट्टे से पेड़ पर लटककर जान दे दी। घटना की जानकारी पर दोनों परिवारों में कोहराम मच गया। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को उतरवाकर पोस्टमार्टम घर भिजवाया।

फीरोजाबाद के मटसेन थाना क्षेत्र स्थित आलमपुर कनैटा निवासी ललिता  उर्फ लता (18) पुत्री राजवीर सिंह लोधी का प्रेम प्रसंग गांव के ही अनिल कुमार (20) पुत्र राजवीर सिंह लोधी से चल रहा था। दोनों शादी करना चाहते थे। परिजनों द्वारा उनके प्रेम संबंधों की भनक लगने के बाद मिलने पर बंदिशें लगा दी गई थीं। प्रेमी दिल्ली में निजी हॉस्पिटल में काम करता था। 16 अगस्त को गांव में प्रभात फेरी निकाली गई थी इसे देखने के लिए निकली युवती अचानक गांव से गायब हो गई। कहा जा रहा है कि वह दिल्ली में अपने प्रेमी के पास पहुंच गई। 17 अगस्‍त को युवती ने फोन कर परिजनों को सारी बात बताई और प्रेमी संग शादी करने की बात कही।

बताया जा रहा है कि परिजनों ने इस रिश्ते को मानने से इंकार कर दिया था। सोमवार सुबह मटसेना के गांव आकलपुर के पास  दोनों के शव एक पेड़ से लटके मिले। गांव के लोगों ने जब इन्हें लटके हुए देखा तो पुलिस को सूचना दे दी।

पुलिस ने पहुंचकर तलाशी ली तो उनके पास से मिले परिचय पत्रों के आधार पर दोनों की शिनाख्त हुई। इसके बाद बसई मोहम्मदपुर पुलिस की मदद से दोनों के परिजनों को सूचना दी तो वे भागकर पहुंचे। पुलिस ने शवों को पीएम के लिए भिजवाया है।

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप