आगर, जेएनएन। इंतहां हो गई जुल्म सहने की, परिजन इतने भयभीत हैं कि रात की आहट बेचैन कर देती है तो दिन में दस्तक देने वाला हर हमलावर नजर आता है, किस पर विश्वास करें। पति और बेटा गायब हो गए, पुलिस ने मदद नहीं की, ससुर और पति ने जिंदगी कांग्रेस की सेवा में गुजार दी, अब वे पूछने तक नहीं आते, भू-माफियाओं ने शौचालय तक तोड़ दिया, मां-बेटी खुले में शौच जाती हैं तो वहां भी सिरफिरे घूमते हैं। यह अन्याय कोई दूर देहात नहीं शहर के भूतेश्वर इलाके में बरपाया जा रहा।

भूतेश्वर तिराहा स्थित टेरा टावर के सामने महिला चाय की दुकान करती हैं। इसी दुकान के पीछे कोठरी में वह बेटी और बेटे के साथ रहती हैं। भू-माफियाओं को उनकी यह खुशी देखी नहीं जा रही है। इसी विवाद में वर्ष 2012 में महिला का पति और बड़ा 18 वर्षीय बेटा गायब हो गए, पुलिस इनका आज तक पता नहीं लगा पाई है।

न सधवा न विधवा का जीवन जी रही महिला पति और बेटे के गम को सहकर एक बेटी और बेटे के पालन के लिए चाय की दुकान कर पेट पालन रही है। महिला की यह खुशी भी भू-माफियाओं पर देखी नहीं गई। उन्होंने नाबालिग से दुष्कर्म में नाकाम रहने पर कोठरी के पीछे बने शौचालय को तोड़ डाला। भूमि की चाहरदीवारी भी तोड़ दी है। परिवार की महिलाएं सुबह-सायं पेड़ों की आड़ में शौच करने जाएं भी तो युवक उन्हें परेशान करते हैं। सुबह से देर रात तक यहां युवा चरस, गांजा, शराब पीते मिल जाएंगे, जो फब्तियां कसते रहते हैं, और यह सब होता है इशारे पर।

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप