जागरण संवाददाता, आगरा: 16 जून से चल रही उप्र प्राविधिक विवि की काउंसिलिंग के अंतर्गत 24 जून से च्वॉयस लॉकिंग की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। अच्छी रैंक हासिल करने वाले विद्यार्थियों को विवि एक से अधिक मौके देना चाहता है। इन छात्रों को कॉलेज की च्वॉयस लॉक करने का अवसर दो बार मिलेगा। काउंसिलिंग प्रक्रिया में दस्तावेज की जांच का मंगलवार को अंतिम दिन है। जो छात्र दस्तावेज की किसी कारणवश जांच नहीं करवा पाए हैं, वे शहर में बनाए चार केंद्रों पर डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन करवा सकते हैं। विवि ने आगरा में आरबीएस, आगरा कॉलेज, आनंद तथा केपी इंजीनिय¨रग कॉलेज को काउंसिलिंग की जिम्मेदारी सौंपी है। इन केंद्रों पर बुधवार से लॉकिंग की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। 24 से 26 जून तक 35 हजार तक की रैंक के कॉलेज को लेकर अपनी च्वॉयस लॉक कर सकेंगे।

35 हजार से अधिक रैंक वाले अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग दो जुलाई तक चलेगी। 35 हजार तक के रैंक वाले छात्रों को अगर पहली बार लॉकिंग में कोई कॉलेज समझ नहीं आता या वे कॉलेज बदलना चाहते हैं तो उन्हें दो जुलाई तक दूसरा मौका मिलेगा। जेईई मेन्स के विद्यार्थियों की काउंसिलिंग नौ-दस जुलाई को होगी। इन छात्रों के लिए कॉलेजों में बीस फीसद सीटें निर्धारित हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप