आगरा, जागरण टीम। तेजस की मृत्यु से कालोनी वाले और स्वजन स्तब्ध हैं। परिवार वालों को यह सवाल परेशान कर रहा है कि जो बेटा पापा से फरमाइश करके घर से गया था, कुछ ही देर में ऐसा क्या हो गया, जो उसने आत्मघाती कदम उठा लिया। पुलिस हाइट्स में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाल रही है। जिससे कि छात्र तेजस वहां कब और कैसे पहुंचा, इसका पता लगाया जा सके।

छह वर्ष पहले खरीदा मकान

सिकंदरा के दहतोरा स्थित बृज द्वारिका कालोनी निवासी विशाल तिक्खा मूलरूप से फव्वारा कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले हैं। परिवार के करीबी लोगों ने बताया कि विशाला ने गेट बंद कालोनी में छह वर्ष पहले ही उन्होंने घर खरीदा है। यहां पर पत्नी पूनम, बेटा तेजस और बेटी परी रहती है। विशाल वह गुरुग्राम में एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में एरिया मैनेजर हैं। सप्ताहांत की छुट्टियों में यहां आते हैं। वह शनिवार की शाम को घर आए थे। तबीयत सही न हाेने के कारण सोमवार को रुक गए थे।

तेजस काफी हंसमुख था

विशाल के करीबी लोगों ने बताया कि 18 वर्षीय तेजस काफी हंसमुख था। वह बारहवीं के साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था। सोमवार की शाम को वह पापा से गाजर के हलवे की फरमाश करके कोचिंग गया था। रात करीब नौ बजे पिता के मोबाइल पर पापा आइ लव यू मैसेज आने के बाद वह उसकी तलाश में निकले थे।पुलिस को थाने पहुंचकर जानकारी दी। उसने मोबाइल की लोकेशन पता की। वह शास्त्रीपुरम हाइट्स की आई।

बाहर खड़ी साइकिल देखकर पहुंचे स्वजन

पुलिस और स्वजन उसके आसपास उसे खोज रहे थे। साइकिल को देखकर अंदर पहुंचे तो शव पड़ा मिला था। परिवार और कालोनी वालों को यह सवाल परेशान कर रहा है कि तीन घंटे में ऐसा क्या हुआ कि तेजस ने आत्मघाती कदम उठा लिया। प्रभारी निरीक्षक सिकंदरा आनंद कुमार शाही ने बताया कि शास्त्रीपुरम हाइट्स में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखी जा रही है। छात्र के खुदकुशी के कारणों की जांच की जा रही है।

छोटी बहन से था बेहद प्यार

तेजस अपनी आठ वर्षीय छोटी बहन परी से बेहद प्यार करता था। परिवार के करीबी लोगों ने बताया कि बहन एक पल भी उसके बिना नहीं रह सकती। उसे भाई की मृत्यु के बारे में नहीं बताया गया था।

ये भी पढ़ें...

Basant Panchami पर गुलाल उड़ाकर ब्रज में होली की शुरुआत करेंगे बांकेबिहारी, आराध्य संग होली खेलने आएंगे भक्त

बैडमिंटन का अच्छा खिलाड़ी था

तेजस बैडमिंटन का भी अच्छा खिलाड़ी था। कालोनी के पार्क में रोज शाम को लोग बैडमिंटन खेलते हैं। बड़े लोग भी उसे अपनी टीम में लेने के लिए आतुर रहते थे। कालोनी के बच्चों में भी वह काफी लोकप्रिय था। 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट