टोक्यो, एजेंसियां। टोक्यो ओलिंपिक में टेनिस में बड़ा उलटफेर हुआ है। दुनिया की नंबर दो खिलाड़ी नाओमी ओसाका मंगलवार को महिला एकल स्पर्धा से बाहर हो गईं। चेक गणराज्य की मार्केटा वोंद्रोसोवा ने ओसाका को सीधे सेटों में 6-1, 6-4 से हराया। पहले सेट में ऐसा लग रहा था कि ओसाका सिर्फ एक गेम जीतने में सफल रही और अंत में वोंद्रोसोवा ने इसे 6-1 से जीत लिया। चेक की खिलाड़ी ने दूसरे सेट में अपना शानदार प्रदर्शन बरकरार रखा और जापानी खिलाड़ी और पदक की दावेदार ओसाका को वापसी नहीं करने दिया। अंत में ओसाका सीधे सेटों में मैच हार गई।

मई में फ्रेंच ओपन से हटने के बाद टोक्यो ओलिंपिक 2020 ओसाका का पहला टूर्नामेंट था। इस दौरान उन्होंने कहा था कि वह लगभग तीन वर्षों से अवसाद से पीड़ित हैं। ओसाका ने कहा था कि वह खिलाड़ियों की मानसिक भलाई के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए प्रेस ब्रीफिंग का बहिष्कार करेंगी। हालांकि, ओलिंपिक में हार के बाद उन्होंने पत्रकारों से बात की। 

ओसाका ने कहा, ' मुझे निश्चित रूप से ऐसा लग रहा है कि इस बार बहुत दबाव था। मुझे लगता है कि ऐसा शायद इसलिए है क्योंकि मैंने पहले ओलंपिक में नहीं खेला है, लेकिन मुझे लगता है कि उस ब्रेक के बाद मैं जिस तरह से खेली हूं उससे खुश हूं। मैंने पहले भी लंबे ब्रेक लिए हैं और इसके बाद मैं अच्छा प्रदर्शन करने में सफल रहा हूं। मैं यहां आकर वाकई बहुत खुश हूं। मुझे दुख है कि मैं हार गई, लेकिन वास्तव में अपने पहले ओलंपिक अनुभव से खुश हूं।'

इससे पहले टोक्यो ओलिंपिक में रविवार को भी टेनिस बड़ा उलटफेर हुआ था, जब विंबलडन 2021 की चैंपियन एश्ले बार्टी महिला एकल से बाहर हो गई थीं। स्पेन की सारा सोरिब्स टॉर्मो ने बार्टी को सीधे सेटों में 6-4, 6-3 से हराकर अगले दौर में प्रवेश किया। पूरा मैच एक घंटे 34 मिनट तक चला।

Edited By: Tanisk