नई दिेल्ली, जेएनएन।  स्विट्जरलैंड के स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर का कहना है कि उन्हें बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि विंबलडन के क्वार्टर फाइनल मैच में हार झेलनी पड़ेगी। फेडरर ने कहा कि उन्हें हार मिलने का बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था और इससे वह हैरान हैं। वर्ल्ड नंबर 2 फेडरर को दक्षिण अफ्रीका के वर्ल्ड नंबर-8 टेनिस खिलाड़ी केविन एंडरसन ने क्वार्टर फाइनल मैच में 2-6, 6-7 (7-5), 7-5, 6-4, 13-11 से मात देकर उनके नौवें विंबलडन खिताब का सपना तोड़ा दिया। 

 इस हार के बाद ने कहा, मैं अभ्यास में अच्छा महसूस कर रहा था और मैच में भी गेंद को भी अच्छे से सर्व कर रहा था लेकिन अचानक पता नहीं क्या हुआ शायद क्वार्टर फाइनल का दिन मेरा दिन नहीं था। फेडरर ने कहा, पहले दो सेट जीतकर अगले दो सेट हार जाना निराशाजनक है। मैं इस टूर्नामेंट में पहले भी खेला हूं और जानता हूं कि पांचवें सेट को जीतने के लिए किस प्रकार की ऊर्जा चाहिए होती है। यह बेहद खराब भावना है।

चार घंटे 13 मिनट तक चले टूर्नामेंट के सबसे बड़े उलटफेर वाले मुकाबलों में से एक इस क्वार्टर फाइनल में फेडरर का नौवां विंबलडन खिताब जीतने का सपना आश्चर्यजनक रूप से चकनाचूर हो गया। 2013 में यूक्रेन के सर्गेई स्टाखोवस्की के हाथों दूसरे दौर में उलटफेर का शिकार होने के बाद फेडरर का पहली बार विंबलडन में इतनी जल्दी सफर खत्म हुआ है। विंबलडन में यह सिर्फ दूसरी बार है जब फेडरर को दो सेटों की बढ़त लेने के बावजूद शिकस्त का सामना करना पड़ा।

मैच जीतने के बाद एंडरसन ने कहा कि 2 सेटों में पिछड़ने के बाद मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने और अंत तक लड़ने की कोशिश की। विंबलडन में फेडरर को हराना मुझे हमेशा याद रहेगा, खासतौर से इस तरह के नजदीकी मुकाबले में।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Lakshya Sharma