मैड्रिड, रायटर। अपने करियर के 20 ग्रैंडस्लैम खिताबों में से 13 बार फ्रेंच ओपन का खिताब जीतने वाले राफेल नडाल को पेरिस के क्ले कोर्ट में रोकना नामुमकिन है। वह अब सबसे अधिक 21 ग्रैंडस्लैम खिताब से एक कदम दूर हैं और आगामी फ्रेंच ओपन को जीतकर वह इसे हासिल करना चाहेंगे। हालांकि, रोजर फेडरर के नाम भी 20 ग्रैंडस्लैम हैं। नडाल के लिए ऐतिहासिक जीत का रास्ता आसान नहीं होने वाला है।

आंद्रे रूबलेव और एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने आसानी से हराया था

पिछले क्ले कोर्ट टूर्नामेंटों में उन्हें आंद्रे रूबलेव और एलेक्जेंडर ज्वेरेव ने आसानी से हराया था। हाल ही में खेले गए चार क्ले कोर्ट टूर्नामेंट में नडाल सिर्फ दो में ही जीत हासिल कर सके हैं। इसके अलावा उन्हें क्ले कोर्ट के एक-एक सेट में डेनिस शापालोव और केई निशिकोरी के खिलाफ भी हार का मुंह देखना पड़ा। इससे साफ जाहिर होता है कि उनकी लय कुछ खास नहीं चल रही है। इसके बावजूद नडाल को पांच सेट में खेले जाने वाले फ्रेंच ओपन में हराना आसान नहीं होगा। क्योंकि जबसे 2005 में उन्होंने पदार्पण किया है तबसे यह सिर्फ दो ही बार हुआ है।

फ्रेंच ओपन में मीडिया से दूर रहेंगी ओसाका

टेनिस स्टार नाओमी ओसाका ने कहा कि वह फ्रेंच ओपन के दौरान मीडियाकर्मियों से बात नहीं करेंगी। दुनिया में सबसे अधिक कमाई करने वाली महिला खिलाड़ी ने बुधवार को ट्विटर पर लिखा कि उन्हें उम्मीद है इसके लिए मुझ पर जो जुर्माना लगाया जाएगा वह मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी चैरिटी को दिया जाएगा।

फ्रेंच ओपन पेरिस में रविवार से शुरू होगा

फ्रेंच ओपन पेरिस में रविवार से शुरू होगा। ओसाका विश्व में दूसरे नंबर की खिलाड़ी के रूप में इस क्ले कोर्ट टूर्नामेंट में भाग लेंगी। जापान में जन्मी और अमेरिका में रह रहीं 23 वर्षीय ओसाका ने अब तक चार ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट जीते हैं जिनमें पिछले साल का यूएस ओपन और इस साल का ऑस्ट्रेलियाई ओपन भी शामिल है।

Edited By: Tanisk