जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। किसी भी खेल के विकास के लिए कड़ी प्रतिद्वंद्विता काफी महत्वपूर्ण है और सात बार की महिला सिंगल्स ग्रैंडस्लैम विजेता जस्टिन हेनिन को मलाल है कि पुरुष सर्किट में रोजर फेडरर और राफेल नडाल जैसी प्रतिद्वंद्विता की महिला टेनिस में कमी है।

पिछले दो साल में महिला टेनिस को आठ ग्रैंडस्लैम में आठ अलग-अलग चैंपियन मिले और हेनिन ने कहा कि इस तरह की निरंतरता की कमी खेल के लिए अच्छी नहीं है। हेनिन ने कहा कि आधुनिक महिला टेनिस को प्रतिद्वंद्विता की जरूरत है, क्योंकि यह युवाओं को प्रेरित करने के लिए महत्वपूर्ण है। हेनिन ने कहा, 'हमें महिला टेनिस में बड़े नामों की जरूरत है, बड़ी प्रतिद्वंद्विता जिससे कि युवा लड़कियों को खेलने की प्रेरणा मिल सके। अगर आप इतनी सारी अलग-अलग खिलाडि़यों को जीतते हुए देखोगे जो आप किसी से भी खुद को जोड़कर नहीं देख पाओगे। पिछले सत्र काफी हैरान करने वाले रहे, सभी टूर्नामेंट अलग-अलग खिलाडि़यों ने जीते। हमें निरंतरता की कमी खल रही है। निरंतरता की कमी खेल के लिए अच्छी नहीं है।'

हेनिन की भी हमवतन किम क्लाइस्टर्स के साथ कड़ी प्रतिद्वंद्विता रही। हेनिन ने क्लाइस्टर्स के खिलाफ 12 मैच जीते, जबकि 13 मैच गंवाए। दोनों के करियर के दौरान इस तरह की खबरें आती रहीं कि दोनों के बीच रिश्ते अच्छे नहीं हैं। उन्होंने कहा, 'किम और मेरे बीच कभी कोई समस्या नहीं थी। कोर्ट पर थोड़ा टकराव हो जाता था, लेकिन यह खेल के लिए जरूरी है। कई बार मीडिया इसे हवा देता था। हम एक-दूसरे से अधिक नहीं मिलतीं, लेकिन हम बच्चों के बारे में एसएमएस और फोन पर अधिक बात करते हैं। मुझे लगता है कि प्रतिद्वंद्विता ने हम दोनों को बेहतर खिलाड़ी बनने में मदद की। मैंने हमेशा कहा है कि अगर उस समय किम नहीं होतीं तो मैं कभी वह खिलाड़ी नहीं बनती जो बनी।'

दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी रोलां गैरो जूनियर वाइल्ड कार्ड सीरीज के पांचवें टूर्नामेंट के लिए यहां आई थीं। सिमोना हालेप 26 मई से नौ जून तक होने वाले फ्रेंच ओपन में अपने खिताब का बचाव करने उतरेंगी और हेनिन का मानना है कि रोमानिया की यह खिलाड़ी प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेंगी। उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि हालेप प्रबल दावेदार हैं। मुझे उनका खेल पसंद है। क्ले ऐसी सतह हैं जहां जीत दर्ज करने के लिए आपको पूरे नियंत्रण की जरूरत पड़ती है और उनके पास इस तरह का खेल है। वह शारीरिक और मानसिक रूप से फिट हैं। वह सर्किट पर सबसे निरंतर प्रदर्शन करने वाली खिलाडि़यों में शामिल हैं। खिलाडि़यों को अगर लगातार ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने हैं तो प्रदर्शन में निरंतरता काफी जरूरी है।'

रोलां गैरो पर चार बार (2003, 2005, 2006 और 2007) की चैंपियन हेनिन के दिल में फ्रेंच ओपन के लिए विशेष स्थान है। रोलां गैरो की ब्रांड दूत हेनिन ने कहा, 'रोलां गैरो मेरे दिल में है। मुझे वहां घर जैसा महसूस होता है। रोलां गैरो में नहीं खेलना मेरे लिए मुश्किल था।' भारतीय खिलाडि़यों के बारे में उन्होंने कहा, 'इसमें कोई संदेह नहीं है कि भारतीय खिलाडि़यों में काफी प्रतिभा है। मैंने उन्हें खेलते हुए देखा है और उनकी तकनीक अच्छी है, लेकिन इसके बावजूद उन्हें खेल पर काफी काम करने की जरूरत है।'

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस