मेलबर्न, एजेंसियां। आस्ट्रेलियाई सरकार ने शुक्रवार को नोवाक जोकोविक का वीजा दूसरी बार यह कहते हुए रद कर दिया कि विश्व नंबर एक टेनिस खिलाड़ी ने कोरोना टीका नहीं लिया है और वे समुदाय के लिए जोखिम पैदा कर सकते हैं। इसके साथ ही आस्ट्रेलिया ओपन में उनके खेलने की संभावना लगभग खत्म होती दिख रही है। उनकी निगाहें इस टूर्नामेंट में 21वें ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने पर है। हालांकि, वह इस फैसले के कोर्ट जा सकते हैं। देश के आव्रजन मंत्री एलेक्स हाके ने जोकोविच के वीजा को फिर से रद करने के लिए विवेकाधीन शक्तियों का इस्तेमाल किया। इससे पहले एक अदालत ने जोकोविक पर से रोक हटा दी थी। ऐसे में उनके वकील फेडरल सर्किट और फैमिली कोर्ट इस फैसले के खिलाफ अपील कर सकते हैं।

हाके ने इस फैसले के खिलाफ अपनी शक्ति का प्रयोग किया। उन्होंने कहा, 'आज मैंने प्रवासन अधिनियम की धारा 133C(3) के तहत स्वास्थ्य समेत अन्य मुद्दों के आधार पर नोवाक जोकोविक के वीजा को रद करने के लिए अपनी शक्ति का प्रयोग किया। ऐसा करना जनहित में था।' बता दें कि जोकोविक को गुरुवार को आस्ट्रेलियन ओपन ड्रा में शामिल किया गया था। ऐसा तब हुआ जब कोरोना वायरस का टीका नहीं लगवाने के कारण वह सरकार के फैसले का इंतजार कर रहे थे कि उन्हें निष्कासित किया जाएगा या खेलने का मौका मिलेगा। इस ऊहापोह के बावजूद आस्ट्रेलियन ओपन आयोजकों ने उन्हें ड्रा में रखा था। इस बीच आस्ट्रेलियाई सरकार ने उनकी वीजा रद कर दी है।

गौरतलब है कि जोकोविक का पिछले सप्ताह मेलबर्न पहुंचने पर वीजा रद हो गया था क्योंकि कोरोना टीकाकरण नियमों में मेडिकल छूट के लिए जरूरी मानदंडों पर वह खरे नहीं उतर रहे थे। उन्होंने बाद में कानूनी लड़ाई जीती और उनका वीजा बहाल हुआ। इसके बाद से ही आव्रजन मंत्री एलेक्स हाके अदालत के फैसले के खिलाफ अपने व्यक्तिगत अधिकार का प्रयोग करके वीजा रद करने पर विचार कर रहे थे। आस्ट्रेलियन ओपन सोमवार से शुरू हो रहा है। ऐसे में जोकोविक का 21वें ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने पर संशय के बादल मंडरा रहे हैं। वह फिलहाल रोजर फेडरर औक राफेल नडाल के समान 20 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके हैं।

Edited By: Tanisk