मास्को, रायटर। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सख्ती का दौर जारी है। दुनियाभर में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को सिक्योरिटी को लेकर संदेह की नजरों से देखा जा रहा है। भारत में हाल ही में भारत सरकार और Twitter के साथ टकराव पैदा हुआ था। भारत के बाद अब रूस में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Facbeook, Twitter और Telegram पर भारी जुर्माना लगाया गया है। रूस की एक अदालत ने मंगलवार को कहा कि उसने अवैध सामग्री नहीं हटाए जाने पर अमेरिकी मीडिया कंपनियों फेसबुक व ट्विटर तथा मैसेजिंग एप टेलीग्राम पर जुर्माना लगाया है।

जानिए किस पर लगा कितना जुर्माना 

टैगांस्की जिला अदालत ने बताया कि फेसबुक पर पांच मामलों में कुल 2.1 करोड़ रूबल (करीब 2.12 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया गया है, जबकि ट्विटर को दो मामलों में कुल 50 लाख रूबल (करीब 50.49 लाख रुपये) का जुर्माना अदा करना होगा। कोर्ट ने मैसेजिंग एप टेलीग्राम पर भी 90 लाख रूबल (करीब 90.88 लाख रुपये) का जुर्माना लगाया है। इस मामले में फेसबुक, ट्विटर व टेलीग्राम ने अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। रूस ने इंटरनेट पर नियंत्रण की दिशा में सख्त कदम उठाते हुए विदेशी इंटरनेट कंपनियों के लिए अपने देश में पूर्णकालिक दफ्तर खोलना अनिवार्य कर दिया है। कंपनियों को उनके क्षेत्र में ही रूसी नागरिकों से संबंधित डाटा का संग्रह करना होगा।

Google पर लगा था जुर्माना 

बता दें कि कल यान 14 सितंबर को दक्षिण कोरिया के एंटीट्रस्ट नियामक ने Google पर भारी जुर्माना लगाया था। रिपोर्ट के मुताबिक मोबाइल आपरेटिंग सिस्टम और एप मार्केट में बाजार के प्रभुत्व के कथित दुरुपयोग के लिए दिग्गज कंपनी गूगल पर 207.4 बिलियन वोन (17.68 करोड़ डालर) का जुर्माना लगाने का फैसला किया है। भारतीय मुद्रा में यह राशि करीब 13.02 अरब रुपये के बराबर है। वहीं इस पर गूगल ने आपत्ति जताई है और कहा है कि इस जुर्माने को वह चुनौती देगा। गूगल ने दक्षिण कोरिया पर मानहानि का आरोप लगाया है।

Edited By: Saurabh Verma