नई दिल्ली। रिलायंस जिओ ने इंटरकनेक्शन के मामले पर भारती एयरटेल पर एक बार फिर निशाना साधा है। रिलायंस जिओ का कहना है कि दोनों कंपनियों के नेटवर्क के बीच हर दिन करीब 2 करोड़ कॉल विफल हो रही हैं। रिलायंस जिओ से एयरटेल पर की जाने वाली ज्यादातर कॉल्स या तो मिलती नहीं हैं या फिर नेटवर्क व्यस्त बताती हैं। हालांकि, एयरटेल ने इस बात को सिरे से खारिज किया है। इसके साथ ही एयरटेल ने रिलायंस जिओ पर सहयोग में कमी का आरोप लगाया है।

जिओ की लांचिंग के बाद से ही कंपनी एयरटेल पर प्वाइंट ऑफ इंटरकनेक्शन ना देने का आरोप लगा रही है। कंपनी का कहना है कि एयरटेल मार्केट में अपनी मजबूत पहचान का गलत इस्तेमाल कर रही है जिससे सीधा नुकसान उन ग्राहकों को ही होगा जो जिओ की सर्विस का फायदा नहीं उठा पा रहे। जहां जिओ ने एयरटेल की तरफ से दिए गए पीओआई का स्वागत किया है वहीं, दूसरी तरफ कंपनी ने कहा है कि एयरटेल की ओर से दिए गए पीओआई बहुत कम हैं क्योंकि दोनों कंपनियों के नेटवर्क पर हर दिन दो करोड़ कॉल्स विफल हो रही हैं।

आपको बता दें कि एयरटेल ने कुछ दिन पहले ही ज्यादा इंटरकनेक्शन प्वाइंट देने की बात कही थी। एयरटेल ने कहा था कि ये प्वाइंट्स डेढ़ करोड़ ग्राहकों के लिए पर्याप्त होंगे।

क्या है प्वाइंट ऑफ इंटरकनेक्शन?

प्वाइंट ऑफ इंटरकनेक्शन उस टेक्नोलॉजी को कहा जाता है जिसके जरिए एक ऑपरेटर की कॉल दूसरे ऑपरेटर से जुड़ती है।

यह भी पढ़े,

आज शुरु होगी LeEco की मेगा सेल, स्मार्टफोन्स और टेलिविजन पर मिलेगी भारी छूट

250 रुपये से चालू और 4 एमबीपीएस तक स्पीड देने वाले ये हैं बीएसएएनएल के कुछ उम्दा डाटा प्लान

स्मार्टफोन हो या कार, गुम या चोरी हो जाने पर इस तरह लगाएं लोकेशन का पता

Posted By: Shilpa Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस