नई दिल्ली, टेक डेस्क। Microsoft अपनी Windows में नए नए फीचर्स लाकर इसे बेहतर बनाने में लगा रहता है। अब माइक्रोसॉफ्ट ने अपने Snipping Tool के लिए एक अपडेट देना शुरू किया है। इस नए अपडेट में एक बिल्ट-इन स्क्रीन रिकॉर्डर टूल शामिल हैं। हालांकि यह नया अपडेट अभी सभी यूजर्स को नहीं मिलने जा रहा।

किनको मिलेगा नया अपडेट

माइक्रोसॉफ्ट फिलहाल विंडोज़ का यह नया अपडेट सिर्फ देव (DEV) चैनल पर ही उपलब्ध कराएगी। जिस कारण नया अपडेट सीमित यूजर्स के लिए ही उपलब्ध रहेगा।

कैसा होगा यह नया अपडेट

माइक्रोसॉफ्ट के नए विंडोज़ 11 अपडेट में यूजर्स को स्निपिंग टूल में अब बिल्ट-इन स्क्रीन रिकॉर्डर का फीचर भी मिलेगा। इससे यूजर्स अपने कंप्यूटर और लैपटॉप में स्क्रीन रिकार्डिंग कर सकेंगे। माइक्रोसॉफ्ट ने अपने एक ब्लॉगपोस्ट के जरिये कहा, स्निपिंग टूल के आने से कंप्यूटर से कंटेंट को कैप्चर और शेयर करना तेज और आसान बना दिया है। अब नए बिल्ट-इन स्क्रीन रिकॉर्डिंग फीचर से कंपनी इन क्षमताओं का और भी अधिक प्रकार के कंटेंट में विस्तार करने जा रही है।

कंपनी ने यह भी कहा कि वो जानती है कि यूजर्स के बीच स्निपिंग टूल एक पसंदीदा टूल है,इसलिए वो इस अपडेट के साथ एक बिल्ट-इन स्क्रीन रिकॉर्डर पेश करने को लेकर बहुत उत्साहित हैं।

नए टूल का उपयोग करने के लिए यूजर्स को स्निपिंग टूल एप्लिकेशन खोलने और नए स्क्रीन रिकॉर्डिंग ऑप्शन को सिलेक्ट करने की आवश्यकता पड़ेगी।

विंडोज पर स्क्रीन रिकॉर्डिंग शुरू करने से पहले यूजर्स को अपनी स्क्रीन पर जो कुछ रिकॉर्ड करना है उसके चुनाव के साथ स्क्रीन को भी एडजस्ट करें, ताकि उतना ही हिस्सा रिकॉर्ड हो सकें जो आपको रिकॉर्ड करना है। नए फीचर से यूजर्स कंटेंट को रिकॉर्ड करके अपने पास तो सेव रख ही सकते हैं लेकिन इसके साथ ही दूसरों के साथ भी सुगमता से शेयर कर सकेंगे।

माइक्रोसॉफ्ट ने इसी साल अक्टूबर के महीने में फाइल शेयरिंग जैसे कई नई फीचर्स शुरू किये थे। इस फीचर के आने के बाद यूजर्स विंडोज 11 पर किसी फाइल और फोटो को बेहद आसानी से शेयर कर सकेंगे।

स्मार्टफोन पर पहले से ही उपलब्ध है यह नया फीचर

माइक्रोसॉफ्ट भले ही अब स्निपिंग टूल के जरिये विंडोज पर स्क्रीन रिकार्डिंग का फीचर ला रही है लेकिन स्मार्टफोन पर ऐसा फीचर बहुत पहले से ही उपलब्ध है। गौरतलब है Google अपने Android यूजर्स के स्मार्टफोन में स्क्रीन रिकॉर्डिंग का फीचर पहले से ही दे रहा है। यूजर्स अपने स्मार्टफोन में किसी भी कंटेंट की स्क्रीन रिकॉर्डिंग को बेहद सुगमता से करते हैं और इसके बाद उनके पास उस रिकॉर्डिंग को शेयर करने का भी विकल्प मौजूद होता है।  

यह भी पढ़ें- ऐपल iPhone 15 को बिना type C पोर्ट के साथ ही कर सकता है लॉन्च, जानिये इसके बारे में

Edited By: Kritarth Sardana

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट