बेंगलुरू: टेक्नोलॉजी में अग्रणी गूगल अब अपने प्रॉडक्ट्स जैसे- Maps का प्रयोग बढ़ाने पर फोकस कर रहा है और सर्च के लिए भारतीय भाषाओं विशेषकर हिंदी के उपयोग कर रहा है ।

Google India के मार्केटिंग डायरेक्टर, संदीप मेनन ने कहा कि यद्दपि यह एक अनुमान है कि 500 मिलियन लोग हिंदी बोलते हैं और मात्र 100,000 विकिपीडिया आर्टिकल्स है। भारत की इंटरनेट जनसंख्या सच में तेजी से बढ़ रही है, 2011 में 100 मिलियन यूजर्स थे। अब हम 300 मिलियन यूजर्स के साथ विश्व का दूसरा सबसे बड़ा इंटरनेट बेस बन गए हैं और 2017 तक हम आसानी से 500 मिलियन बेस तक पहुंच जाएंगे

उन्होंने आगे बताया कि देश में हर पांच में से एक (21 per cent) इंटरनेट को हिंदी में एक्सेस करना पसंद करता है।

यहां गूगल हाउस इवेंट में अपने प्रॉडक्ट्स दिखाते हुए, इस यूएस बेस्ड फर्म ने कहा कि यह बात हिंदी भाषा उपयोग के बढ़ने का एक पुख्ता सबूत है।

मेनन ने कहा कि ‘’वेब पर हिंदी कंटेंट की खपत अब बढ़ना शुरू हो गई है। यह साल-दर-साल इंगलिश कंटेंट के 19 प्रतिशत ग्रोथ के मुकाबले 94 प्रतिशत बढ़ती जा रही है

‘’भारत में इंटरनेट पर यूजर्स की बढ़ोतरी मोबाइल फोन्स के आने से हुई है। 2011 में 20 मिलियन यूजर्स से, अब हमारे पास 152 मिलियन यूजर्स अपने स्मार्टफोन्स से इंटरनेट एक्सेस करते हैं। 2017 तक 490 मिलियन (of the 500 million Internet users in the country) यूजर्स इंटरनेट को अपने स्मार्टफोन्स से एक्सेस करने लगेंगे और यही एक सबसे बड़ा कारण है कि गूगल अब उन प्रॉडक्ट्स को लाने पर फोकस कर रहा है जो यूजर्स की जरूरतों को समझे और निम्न नेटवर्क वाले क्षेत्र में भी अच्छी तरह काम कर सकें।‘’

गूगल पर हिंदी में कुछ भी खोजिए

Posted By: Monika minal