नई दिल्ली, टेक डेस्क। भारत सरकार ने एक बार फिर देश की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश संबंधों और गलत जानकारी फैलाने के लिए कुछ YouTube चैनलों को ब्लॉक कर दिया है। बता दें कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने इस बार 8 यूट्यूब चैनल्स को ब्लॉक कर दिया है। ऐसा कहा जाता है कि 8 चैनलों में से 7 भारत से हैं और 1 पाकिस्तान से है। इन YouTube चैनलों को 114 करोड़ से अधिक बार देखा गया और 85 लाख से अधिक सब्सक्राइबर थे। इन चैनलों को आईटी नियम, 2021 के तहत ब्लॉक किया गया है। मंत्रालय द्वारा ब्लॉक कंटेंट को भारत की संप्रभुता और अखंडता, राज्य की सुरक्षा, विदेशी राज्यों के साथ भारत के मैत्रीपूर्ण संबंधों और देश में सार्वजनिक व्यवस्था के लिए हानिकारक पाया गया।

फेक न्यूज फैलाने का लगा आरोप

I & B मंत्रालय ने यह भी खुलासा किया कि इन YouTube चैनलों को भारत में धार्मिक समुदायों के बीच नफरत फैलाने के लिए ब्लॉक किया गया है। यह भी कहा जा रहा है कि ब्लॉक YouTube चैनलों पर प्रकाशित विभिन्न वीडियो में देश के बारे में झूठे दावे किए गए थे।

आईटी मंत्रालय ने इन यूट्यूब को ब्लॉक करने पर टिप्पणी करते हुए कहा कि इस चैनल में फर्जी खबरें शामिल हैं- जैसे कि भारत सरकार ने धार्मिक संरचनाओं को गिराने का आदेश दिया है; भारत सरकार ने धार्मिक त्योहारों के उत्सव, भारत में धार्मिक युद्ध की घोषणा आदि पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस तरह के कंटेंट में सांप्रदायिक असामंजस्य पैदा करने और देश में सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ने का प्रयास किया गया है।

मंत्रालय ने आगे बताया कि यूट्यूब चैनलों का उपयोग भारतीय सशस्त्र बलों, जम्मू और कश्मीर आदि जैसे विभिन्न विषयों पर फर्जी समाचार पोस्ट करने के लिए भी किया गया था। सामग्री को राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेशी राज्यों के साथ भारत के मैत्रीपूर्ण संबंधों के दृष्टिकोण से पूरी तरह से गलत और संवेदनशील माना गया था।

इन चैनल्स को किया गया ब्लॉक

भारत में ब्लॉक किए गए YouTube चैनलों- लोकतंत्र टीवी, U & V टीवी, AM रज़वी, गौरवशाली पवन मिथिलांचल, SeeTop5TH, सरकारी अपडेट, सब कुछ देखो शामिल है। वहीं पाकिस्तान में स्थित आठवें चैनल न्यूज की दुनिया को कहा जाता है।

इसके अलावा देश के बारे में गलत जानकारी फैलाने के लिए एक फेसबुक अकाउंट और दो फेसबुक पोस्ट को भी ब्लॉक कर दिया गया है। यह पहली बार नहीं है जब सरकार ने YouTube चैनलों को बंद कर दिया है। बता दें कि अप्रैल में भारत ने इसी कारण से 16 YouTube चैनलों पर प्रतिबंध लगा दिया।

Edited By: Ankita Pandey