नई दिल्ली। गूगल ने मंगलवार को सेफर इंटरनेट डे के मौके पर अपने ब्लाॅग पर गूगल वाइ-फाइ को लेकर कई महत्वपूर्ण बातें शेयर की। इस मौके पर यह भी बताया कि अगर गूगल वाइ-फाइ को हैक कर लिया गया तो यह भी बूट नहीं होगा। कंपनी ने इसे 'वैरिफाइड बूट' के रूप में परिभाषित किया है जिसका मतलब है कि वाइ-फाइ तब तक बूट नहीं होगा जब तक कि इसे आधिकारिक गूगल वाई-फाई साॅफ्टवेयर द्वारा वेरिफाई नहीं किया जाता।

इसके अतिरिक्त यूजर गूगल वाइ-फाइ पर सेटिंग्स भी बदल सकता है। उन्हें अन्य गूगल सर्विसेस की तरह क्लाउड सिक्योरिटी पर आधारित गूगल वाइ-फाइ मोबाइल एप का उपयोग करना होगा। यह सुनिश्चित करता है कि यूजर के नेटवर्क पर कोई भी बदलाव नहीं हो पाएगा जब तक कि यह अधिकृत एप से ना हो।

यह भी पढ़े,

10000 रुपये से भी कम में बाजार में उपलब्ध हैं ये 3जीबी रैम से लैस स्मार्टफोन्स

सैमसंग Galaxy S8 में आएगा एप्पल SIRI की तरह Bixby असिस्टेंट, करेगा 8 भाषाओं को सपोर्ट

माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 10 में काम के साथ देख सकेंगे टीवी, मिलेगा एंड्रायड फोन जैसा अनुभव

Posted By: Shilpa Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस