नई दिल्ली, टेक डेस्क। एंड्राइड (Android) यूजर्स के लिए बड़ी खबर है। गूगल (Google) उन एंड्राइड वर्जन का ऐलान कर दिया है, जिनमें लॉग-इन का सपोर्ट नहीं दिया जाएगा। इनमें 2.3.7 या उससे कम वर्जन पर चलने वाले एंड्राइड फोन (Android Phone) शामिल हैं। इन डिवाइस में गूगल का एक भी ऐप काम नहीं करेगा। हालांकि, यूजर्स फोन में मौजूद ब्राउजर के जरिए गूगल सर्च से लेकर साइन-इन तक कर सकेंगे। यह बदलाव 27 सितंबर 2021 से प्रभावी होगा। बता दें कि यह जानकारी कंपनी द्वारा साझा किए गए ई-मेल से मिली है।

9टू5गूगल की रिपोर्ट में कहा गया है कि उन यूजर्स को गूगल की ओर से ई-मेल मिला है, जो इस समय पुराने एंड्राइड वर्जन वाले डिवाइस इस्तेमाल कर रहे हैं। कंपनी ने पुराने एंड्राइड वर्जन को बंद करने का कदम यूजर्स के निजी डेटा को सुरक्षित रखने के लिए उठाया है। 27 सितंबर के बाद यदि एंड्राइड 2.3.7 या उससे कम पर चलने वाले एंड्राइड डिवाइस पर किसी भी गूगल ऐप में लॉग-इन करने की कोशिश करते हैं, तो उन्हें username or password error मिलेगा।

यूजर्स को बदलना होगा अपना डिवाइस

2.3.7 और उससे कम एंड्राइड वर्जन वाले डिवाइस में 27 सितंबर के बाद एक भी गूगल ऐप काम नहीं करेगा। ऐसे में यूजर्स अपना डिवाइस बदल सकते हैं। भारतीय बाजार में पोको एम3 प्रो और रेडमी नोट 10टी 5G जैसे बजट स्मार्टफोन उपलब्ध हैं, जिनमें लेटेस्ट एंड्राइड वर्जन का सपोर्ट दिया जा रहा है। इसके अलावा इनमें दमदार बैटरी, एचडी डिस्प्ले और पावरफुल कैमरा मिलेगा।

Android 12

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गूगल ने मई में Android 12 ऑपरेटिंग सिस्टम को लॉन्च किया था। एंड्राइड 12 की बात करें तो इस लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम को पूरी तरह से रिडिजाइन किया गया है। इसमें लगभग सभी विजेट अलग अंदाज में नजर आएंगे। सिक्योरिटी के लिहाज से नए ऑपरेटिंग सिस्टम में नया प्राइवेसी डैशबोर्ड मिलेगा, जिससे यह जानकारी मिलेगी कि कौन-से डेटा को कब एक्सेस किया गया था।

यूजर्स इस डैशबोर्ड के माध्यम से किसी भी ऐप की परमिशन को रद्द कर सकते हैं। इसके अलावा एंड्राइड 12 में दो नए फीचर्स का सपोर्ट दिया गया है। इसमें पहले फीचर के जरिए कैमरा को डिसेबल किया जा सकता है, जबकि दूसरा माइक यानी माइक्रोफोन के लिए काम करता है।

IoT डिवाइस जोड़ने में है सक्षम

एंड्राइड 12 ऑपरेटिंग सिस्टम के माध्यम से IoT डिवाइस को जोड़ा जा सकता है। यूजर्स एंड्राइड ऑटो और डिजिटल कार की के जरिए फोन से अपनी कार को कनेक्ट कर सकेंगे और NFC के माध्यम से अनलॉक कर पाएंगे।

Edited By: Ajay Verma