नई दिल्ली (जेएनएन)। त्यौहारी सीजन पर बाजारों में रौनक के साथ-साथ इस बार ऑनलाइन बाजार भी गुलजार है। देश में तेजी से बढ़ते इंटरनेट कनेक्शन, विदेशी निवेशकों से मिले ताजा फंड और ग्राहकों को मिल रही फाइनेंस सुविधाओं के बल पर अमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों ने ऑनलाइन बाजार में जबरदस्त रौनक भर दी है। माना जा रहा है कि इस त्यौहारी मौसम में इन कंपनियों की बिक्री 30 से 50 फीसद तक बढ़ेगी।

फ्लिपकार्ट ने पिछले वर्ष के मुकाबले रखा दोगुना लक्ष्य
देश की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी का दावा करने वाली फ्लिपकार्ट ने ‘बिग बिलियन डेज’ के नाम से 20-24 सितंबर तक चलने वाला ऑफर शुरू किया है। कंपनी ने पिछले वर्ष के मुकाबले दो गुना ज्यादा बिक्री करने का लक्ष्य रखा है। साथ ही अधिकारियों को साफ तौर पर निर्देश दिया गया है कि इस बार कुल बिक्री प्रतिद्वंदी कंपनी अमेजन से दोगुनी ज्यादा होनी चाहिए। फ्लिपकार्ट ने चार दिनों के दौरान 10,000 करोड़ रुपये की बिक्री करने का लक्ष्य रखा है।

इन जगहों में सबसे पहले पहुंचेगा अमेजन
अमेजन की ‘ग्रेट इंडिया सेल्स’ की शुरुआत बुधवार को दोपहर से हुई है। ग्राहकों के अब तक के रुख से उत्साहित अमेजन इसकी बीते दो महीने से तैयारी कर रही थी। कंपनी ने पहली बार अपने प्राइम यूजर्स के लिए पहले 12 घंटे तक बिक्री ऑफर जारी रखा। इस दौरान ग्राहकों को ज्यादा छूट मिली। बाजार में ग्राहकों के उत्साह के चलते अमेजन पहली बार देश के उन हिस्सों में ऑनलाइन डिलीवरी के साथ पहुंची है, जहां अभी तक कोई कंपनी नहीं गई थी।

शॉपक्लूज की सेल चलेगी सबसे लम्बी
ऑनलाइन बाजार की ही एक अन्य फर्म शॉपक्लूज ने महा भारत दिवाली सेल की शुरुआत की है, जो आठ दिनों तक चलेगी। कंपनी ने कई बैंकों, पोर्टलों और ई-वॉलेट के साथ गठजोड़ करके अपनी स्कीम की पहुंच बढ़ाने की कोशिश की है। त्यौहारों के मौके पर ऑनलाइन कंपनियों के उत्साह की एक बड़ी वजह इस बार यह है कि ग्राहकों को कंज्यूमर ड्यूरेबल के साथ साथ अन्य उत्पादों पर फाइनेंस की सुविधा देने वाली कई कंपनियां इस प्लेटफॉर्म पर भी मौजूद हैं। कई वित्तीय कंपनियों ने ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ इस बार ऑनलाइन ग्राहकों को हाथ के हाथ फाइनेंस उपलब्ध कराने के लिए करार किए हैं। बजाज फाइनेंस फ्लिपकार्ट के साथ मिलकर उसकी बिग बिलियन डेज के लिए ‘नो कॉस्ट ईएमआइ’ का ऑफर लाई है।

इंटरनेट का विस्तार बना सेल की बड़ी वजह
त्यौहारी सीजन के प्रति आनलाइन कंपनियों का रुझान बढ़ने की एक वजह यह भी है कि देश में पिछले एक वर्ष में इंटरनेट और स्मार्टफोन का विस्तार काफी हुआ है। खासतौर पर जियो के आने के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने इंटरनेट का इस्तेमाल करना शुरू किया है। इसके चलते इन कंपनियों के लिए नए ग्राहकों की संभावनाएं भी बढ़ी हैं। साथ ही इन सभी कंपनियों में इनके साझेदारों ने नए सिरे से निवेश करने का फैसला किया है। मसलन, जापान के सॉफ्टबैंक ने फ्लिपकार्ट में चार अरब डॉलर का निवेश किया है।

यह भी पढ़ें:

ऑनलाइन सेल: 8000 रुपए की कीमत में खरीदना है स्मार्टफोन, ये हैं अच्छे ऑप्शन

16000 रुपये कम में खरीदें सैमसंग गैलेक्सी एस7, अन्य ऑफर्स भी उपलब्ध

आईफोन एक्स को टक्कर देने हुआवे लॉन्च करेगा AI आधारित स्मार्टफोन

 

Posted By: Shilpa Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस