नई दिल्ली, टेक डेस्क। COAI यानि की सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने 3GPP (थर्ड जेनरेशन पार्टनरशिप प्रोजेक्ट) के सहयोगियों और ग्लोबल सर्टिफिकेशन फोरम के साथ बैठक आयोजित की। इस बैठक में 5G के लिए ग्लोबल स्टैंडर्ड और डिवाइस सर्टिफिकेशन की प्लानिंग की गई। हैदराबाद में इस बैठक का आयोजन 13 जनवरी से लेकर 17 जनवरी के बीच किया गया। इस मीटिंग में भारत सरकार के अधिकारी अकेडमिया और अन्य की स्टेक होल्डर्स ने पार्टिशिपेट किया। इसमें भारत में 5G के डिप्लॉयमेंट के लिए ग्लोबल स्टैंडर्ड और डिवाइस के लिए सर्टिफिकेशन रिक्वॉयरमेंट के बार में भी चर्चा की गई। इसमें इन स्टेक होल्डर्स के अलावा 5GIF (5G इन इंडिया फोरम) ने भी हिस्सा लिया।

थर्ड जेनरेशन पार्टनरशिप प्रोजेक्ट (3GPP) में दुनिया के सात टेलिकम्युनिकेशन स्टैंडर्ड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन और असोसिएटेड ऑर्गेनाइजेशन शामिल हैं जो 3GPP टेक्नोलॉजी, जिसमें रेडियो एक्सेस कोर नेटवर्क और सर्विस कैपेबिलिटिज आदि के डेवलेपमेंट के लिए काम करती हैं। इस प्रोजेक्ट के तहत सेल्युलर टेलिकम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी और 5G नेटवर्क के लिए इकोसिस्टम डेवलपमेंट के लिए काम किया जा रहा है। 3GPP इस समय दुनियाभर में तेजी से 5G नेटवर्क के विकास के लिए सक्षम वातावरण बनाने की दिशा में भी काम कर रहा है, ताकि दुनिया के हर देश में इस नेक्स्ट जेनरेशन टेलिकम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी को डेवलप किया जा सके।

हैदराबाद में आयोजित इस बैठक में 3GPP स्पेसिफिकेशन ग्रुप (SA6) की बैठक के दौरान, तकनीकी विनिर्देश और महत्वपूर्ण संचार से संबंधित विभिन्न अनुप्रयोगों (जैसे मिशन महत्वपूर्ण आवेदन) और संबंधित कार्यक्षेत्र से संबंधित मानक आदि पर चर्चा और समीक्षा की गई। दुनिया भर की 40 से अधिक कंपनियों के प्रतिनिधियों ने इस बैठक में हिस्सा लिया। बैठक में दूरसंचार विभाग और भारतीय रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ-साथ शिक्षाविदों ने भी भाग लिया। इस बैठक के दौरान COAI ने 5G, 5G New Radio (NR), Internet of Things (IoT) और MCX सर्टिफिकेशन के बारे में भी चर्चा की गई। इस मीटिंग में भी 40 से ज्यादा डिवाइस मैन्युफैक्चरर्स, टेस्टिंग लेबोरेटरीज और दूरसंचार विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया।

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस