नई दिल्ली, आइएएनएस। स्मार्टफोन ब्रांड सैमसंग और शाओमी की बादशाहत को जोरदार झटका लगा है। दरअसल साल 2021 की चौथी तिमाही (अक्टूबर, नवंबर और दिसंबर) Apple के लिए काफी अच्छी रही है। इस दौरान Apple जोरदार वापसी की और दुनिया की नंबर-1 स्मार्टफोन कंपनी का ताज दोबारा से हासिल कर लिया।बता दें कि इसके लिए ऐपल को काफी इंतजार करना पड़ा है। ऐपल 3 तिमाही यानी 9 माह दोबारा नंबर-1 पोजिशन हासिल करने में कामयाब रही है।

22 फीसदी मार्केट शेयर के ऐपल बनीं नंबर-1

मार्केट एनालिस्ट की मानें, तो ऐपल की वापसी में iPhone 13 स्मार्टफोन सीरीज का बड़ा हाथ रहा है। iPhone 13 सीरीज को दुनियाभर में बेहद पसंद किया जा रहा है। मार्केट रिसर्च फर्म Canalys की रिपोर्ट के मुताबिक 22 फीसदी वर्ल्ड वाइज शिपमेंट के साथ ऐपल साल 2012 की चौथी तिमाही का नंबर वन प्लेयर बनकर उभरा है। लेकिन पिछली तिमाही के मुकाबले शिपमेंट में 1 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया है।

Samsung की बादशाहत को लगा झटका

Apple ने नंबर-1 की पोजिशन सैमसंग को पीछे छोड़कर हासिल की है। साल 2021 की चौथी तिमाही में सैमसंग पहले पायदान से खिसककर दूसरे पायदान पर पहुंच गयी है। इस दौरान सैमसंग का मार्केट शेयर 20 फीसदी रहा। वहीं Xiaomi ने अपनी नंबर-3 की पोजिशन को बरकरार रखी है। इस दौरान Xiaomi का मार्केट शेयर 12 फीसदी रहा। 

चीनी में Apple iPhone की भारी डिमांड 

Apple की चीन में भारी डिमांड रही है। जिससे Apple दुनिया में नंबर-1 स्मार्टफोन ब्रांड बनने में कामयाब है। साथ ही ऐपल पिछले साल अक्टूबर माह से चीन का भी नंबर-1 स्मार्टफोन बना हुआ है। Canalys एनालिस्ट संयम चौरिसिया के मुताबिक Apple की सप्लाई चेन ने रिकवर करना शुरू कर दिया है। लेकिन अभी भी प्रोडक्शन में कटौती जारी है। इसकी वजह अहम कंपोनेंट की कमी है। जिसकी वजह से दुनियाभर में कई मार्केट में लोग लंबे वक्त से आईफोन 13 का इंतजार कर रहे हैं।

Edited By: Saurabh Verma