नई दिल्ली, टेक डेस्क। भारती एयरटेल ने गूगल के साथ साझेदारी का ऐलान किया है। इस साझेदारी में गूगल कंपनी अपने गूगल फॉर इंडिया डिजिटाइजेशन फंड से एयरटेल में 1 बिलियन डॉलर का निवेश करेगा। Google कंपनी 700 मिलियन निवेश करके एयरटेल में 1.28 फीसदी हिस्सेदारी हासिल करेगी। जबकि मल्टी ईयर डील के तहत 300 मिलियन डॉलर के निवेश का ऐलान हुआ है।

गूगल-एयरटेल साझेदारी से मजबूत होगी भारत की डिजिटल राह

टेलीकॉम ऑपरेटर ने एयरटेल की मानें, तो इस नई साझेदारी से स्मार्टफोन और ग्राहकों तक पहुंच आसान होगी। साथ ही 5जी नेटवर्क की दुनिया में साझेदारी मजबूत होगी। गूगगल भारत में क्लाउड इकोसिस्टम को मजबूत करेगा। गूगल की ओर से 300 मिलियन की निवेश राशि से एयरटेल का प्रसार किया जाएगा। साथ ही यूजर्स तक किफायती दर पर डिजिटल कार्यक्रम पहुंचाया जाएगा। एक्सपर्ट की मानें, तो गूगल-एयरटेल डील से भारत में डिजिटल राह आसान होगी। साथ ही यूजर्स तक किफायती दर पर इंटरनेट समेत अन्य डिजिटल सर्विस पहुंचाने में में मदद मिलेगी। 

गूगल-एयरटेल डील से शेयर में बढ़त

एयरटेल में निवेश से गूगल को 734 रुपये प्रति शेयर के आधार पर एयरटेल को 71,176,839 इक्विटी शेयर हासिल हो जाएंगे। इससे कुल मिलाकर 5,224.38 करोड़ रुपये (700 मिलियन डॉलर) गूगल को एयरटेल को देना होगा। इस साझेदारी के ऐलान के साथ शुरुआती कारोबार में शेयर 1.95 फीसदी की तेजी के साथ 721 रुपये के उच्च स्तर पर पहुंच गया। मौजूदा वक्त में एयरटेल के प्रमोटर समूह- मित्तल परिवार और सिंगटेल- के पास टेल्को का 55.93 प्रतिशत हिस्सा है और बाकी जनता के पास है। मित्तल परिवार की प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लगभग 24.13 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जबकि सिंगटेल की 31.72 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

ये भी पढ़ें 

Jio और Airtel के 5G नेटवर्क में क्या है अंतर, जानिए कौन होगा बेस्ट?

ट्राई का आदेश, 28 नहीं ग्राहकों को दें पूरी 30 दिन वैधता वाले प्री-पेड रिचार्ज प्लान

Edited By: Saurabh Verma