नई दिल्ली (टेक डेस्क)। संगम नगरी प्रयागराज में 15 जनवरी से शुरू हुए कुंभ 2019 के लिए दूरसंचार कंपनी Airtel ने प्री-5G नेटवर्क तकनीक पेश करने की पेशकश की है। आपको बता दें कि इस साल के अंत तक कई टेलिकॉम कंपनियां 5G सेवा की टेस्टिंग शुरू कर सकती है। Airtel ने सोमवार को एक बयान जारी करते हुए कहा, "कंपनी कुंभ मेले में भाग लेने वाले लाखों श्रद्धालुओं की क्नेक्टिविटी की जरूरतों को ध्यान में रखते हुये अपने नेटवर्क को मजबूत कर रही है। Airtel कुंभ में अपने नेटवर्क को बढ़ाने के लिये यहां 'MIMO टेक्नोलॉजी' लगा रही है।"

क्या है MIMO तकनीक?

MIMO का मतलब होता है मल्टीपल इनपुट और मल्टीपल आउटपुट। इसे आप 4.5G तकनीक भी कह सकते हैं। इस तकनीक की मदद से मोबाइल नेटवर्क की क्षमता 5 से सात गुना बढ़ा सकती है और यूजर्स को हाई स्पीड डाटा का लाभ उठाने में मदद करती है। कंपनी ने पिछले साल IPL2018 के दौरान इसी तकनीक का इस्तेमाल किया था। Airtel इसी सप्ताह से इस तकनीक पर काम करना शुरू कर देगा।

अगस्त तक होगी 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी

ट्राई ने 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए शुरुआती सिफारिशें तय कर दी हैं। इसकी वजह से 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी इस साल अगस्त तक पूरी कर ली जाएगी। भारतीय दूरसंचार सचिव अरूणा सुंदरराजन ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा, "भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने शुरुआती सिफारिशें का सेट दिया है और दूरसंचार विभाग की कार्य समिति इस पर गौर कर रही है। कार्यबल को व्यापक स्पेक्ट्रम बैंड का सेट दिया है जिसपर हमें काम करना है। हर कोई कह रहा है कि पारिस्थितिकी तंत्र तैयार नहीं है, अगले साल जुलाई अगस्त के बाद 5G तैयार होगा।’’

यह भी पढ़ें:

Xiaomi Redmi Note 7 Vs Redmi Note 6 Pro: इन दोनों स्मार्टफोन में ये हैं बड़े अंतर

PUBG Mobile के ये 5 स्मार्ट ट्रिक्स, हर बार जीता सकता हैं 'चिकन डिनर'

Jio के 500 रुपये से कम कीमत के इन 12 रिचार्ज प्लान्स में मिलता है डाटा और फ्री कॉलिंग 

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस