नई दिल्ली, टेक डेस्क। Reliance Jio के 2016 में भारतीय टेलिकॉम में एंट्री करते ही फ्री कॉलिंग और डाटा के जरिए अन्य टेलिकॉम कंपनियों के सामने कड़ी चुनौती पेश की थी। इसके बाद से कई टेलिकॉम कंपनियों को अपने प्लान्स में बदलाव करने पड़े, साथ ही साथ उन्हें भी Jio की चुनौती वाले प्लान्स उतारने पड़े। हालांकि, इसके बाद भी कई कंपनियों के यूजर्स की संख्या में भारी गिरावट देखने को मिली। वहीं, Jio के यूजर्स की संख्या दिन दोगुनो, रात चौगुने की तरह बढ़ते रहे हैं। 9 अक्टूबर को Jio ने एक विज्ञप्ति जारी करते हुए यूजर्स को बताया कि 10 अक्टूबर के बाद से यूजर्स को अन्य नेटवर्क पर कॉल करने के लिए 6 पैसे प्रति मिनट की दर से भुगतान करना पड़ेगा।

Jio की इस घोषणा के बाद कंपनी के कई यूजर्स मायूस हुए, हालांकि, Jio ने यह साफ किया किया कि कंपनी यूजर्स को इसके एवज में फ्री डाटा ऑफर करेगी। IUC यानी कि इंटरकनेक्ट यूसेज वाले कुछ प्लान्स भी कंपनी ने लॉन्च किए हैं। यूजर्स को हर प्लान के साथ डाटा ऑफर किया जा रहा है। Jio के इस ऐलान के बाद से अन्य दो बड़ी टेलिकॉम कंपनियों Airtel और Vodafone Idea ने अपने यूजर्स को कहा कि वे यूजर्स को फ्री कॉलिंग मुहैया कराते रहेंगे। साथ ही साथ अपने यूजर्स को IUC चार्ज के तौर पर कोई भी राशि नहीं वसूलेंगे। Airtel ने विज्ञापन जारी करते हुए अपने यूजर्स से इस तरह की अफवाहों से बचें, जिसमें कहा जा रहा है कि वे भी यूजर्स से चार्ज वसूलेंगे।

क्या है IUC चार्ज?

IUC यानी की इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज आम तौर पर एक ऑपरेटर से दूसरे ऑपरेटर के नंबर पर की कई कॉल के तौर पर वसूली जाती है। TRAI ने इसके लिए 6 पैसे प्रति मिनट की दर तय की है। मान लीजिए कि आप किसी एक टेलिकॉम ऑपरेटर का नंबर इस्तेमाल कर रहे हैं और आप किसी अपने किसी जानने वाले को, जो कि किसी दूसरे टेलिकॉम ऑपरेटर का नंबर इस्तेमाल कर रहा हो, उसे कॉल करते हैं तो इसके लिए यह राशि वसूली जाती है। वहीं, यूजर एक ही नेटवर्क के नंबर पर कॉल करते हैं तो इसके लिए कोई चार्ज नहीं देना होता है।

क्यों लगाया गया IUC चार्ज?

Reliance Jio अपने यूजर्स को कॉलिंग की सुविधा डाटा के जरिए ही मुहैया कराता है। इसलिए कंपनी अपने यूजर्स को शुरू से ही कॉलिंग के लिए कोई चार्ज नहीं लेती है। यूजर्स को केवल डाटा के लिए ही रिचार्ज कराना होता है। ऐसे में अगर कोई Jio यूजर अन्य किसी नेटवर्क के यूजर को कॉल करता है तो दूसरे नेटवर्क के ऑपरेटर को इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज नहीं मिलता है। यही कारण है कि TRAI के आदेश के बाद Jio ने अपने यूजर्स के इंटरकनेक्ट चार्ज लेने का फैसला किया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस