नई दिल्ली, टेक डेस्क। Google Map Tips and Tricks: दुनिया तेज रफ्तार से हाईटेक हो रही है। मौजूदा वक्त में ट्रैफिक पुलिस की जगह सीटीटीवी कैमरे ले रहे हैं, जो ओवर स्पीडिंग पर चालान घर भेज देते हैं, तो क्यों ना आप ओवर स्पीडिंग से बचने के लिए हाईटेक तरीका अपनाया जाए, जो ना सिर्फ आपको चालान कटने से बचाएगा, बल्कि एक्सीडेंट के खबरे को कम कर देगा। जी हां, Google Map इस काम में आपकी मदद करेगा। दरअसल Google Map का एक फीचर स्पीडोमीटर। यह फीचर आपको ओवरस्पीड को लेकर सूचित करता है। मतलब जैसे ही आपकी कार एक तय स्पीड लिमिट से ज्यादा होगी। यह फीचर आपको अलर्ट कर देगा। आइए जानते हैं कैसे काम करता है Google Map का यह फीचर...

कैसे ऑन करें Speedometer

  • सबसे पहले Google Map ओपन करें।
  • इसके बाद Google Map की प्रोफाइल पर क्लिक करें।
  • इसके बाद Setting और फिर Navigation Settings पर क्लिक करें।
  • फिर Driving ऑप्शन में ही आपको Speedometer दिखेगा, जिसे ऑन करना होगा। 

चेक करें अपनी स्पीड

Speedometer से यूजर्स अपनी कार की स्पीड को भी चेक कर सकता है। एक तय स्पीड लिमिट को क्रास करने पर स्पीडो मीटर का कलर रेड हो जाता है। इस फीचर की मदद से आप कार ड्राइव करते वक्त कार की स्पीड के बारे में अंदाजा लगा सकते हैं। इससे आपको पता चल जाएगा कि आपकी कार कितनी स्पीड में चल रही है। आप जैसे ही तय गति को पार करेंगे गूगल मैप का ये खास फीचर रंग बदलकर आपको सूचित करेगा। ऐसे में आप अपनी स्पीड को कम करके चालान और एक्सीडेंट के खतरे से बच सकते हैं। गूगल मैप का ये खास फीचर वाहन चलाने वालों के लिए काफी फायदेमंद है।

नोट- Google Map का स्पीडोमीटर एक तरह से इनफॉर्मल यूज के लिए होगा है। ऐसे में सटीक स्पीड जानने के लिए कार के स्पीडोमीटर पर ही भरोसा करना बेहतर माना जाता है। Google Map के स्पीडोमीटर से अच्छे रिजल्ट को हासिल करने के लिए यूजर्स को GPS ऑन करना होता है।

Edited By: Saurabh Verma