नई दिल्ली, टेक डेस्क। इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp के अब 2 अरब ग्लोबल यूजर्स हो गए हैं। सोशल नेटवर्किंग साइट Facebook की स्वामित्व वाले इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप के 2017 तक 1.5 अरब यूजर्स थे, जो महज 2 साल के अंदर 2 अरब तक पहुंच गए हैं। कंपनी ने इस बात की जानकारी कल दी है। 2009 में स्थापित हुए इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप को 2014 में Facebook ने टेकओवर कर लिया था। इन दो साल के अंदर ही इस मैसेजिंग ऐप के 50 करोड़ यूजर्स जुड़े हैं। इस ऐप को भारत के अलावा दुनिया भर के अन्य देशों में भी व्यापक तौर पर फोटोज, वीडियोज, फाइल्स शेयर करने से लेकर ऑडियो-वीडियो कॉलिंग और टेक्स्ट मैसेजिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

WhatsApp पिछले एक दशक से यूजर्स के लिए सबसे पसंदीदा इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप बना हुआ है। कंपनी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से इस बात की जानकारी दी है कि अब उसके 2 बिलयन ग्लोबल यूजर्स हो गए हैं। कंपनी के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से पोस्ट करते हुए लिखा है कि जैसा हमने शुरू किया था। दुनिया को निजी तौर पर जोड़ने में मदद करने और दुनिया भर में दो बिलियन उपयोगकर्ताओं के व्यक्तिगत संचार की रक्षा करने के लिए आज भी हम उतने ही प्रतिबद्ध हैं।

WhatsApp ने एक के बाद 10 ट्वीट्स करके बताया कि इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप के एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन फीचर के जरिए यूजर्स के चैट्स को निजी रखा जाता है। इस फीचर के जरिए WhatsApp पर किए गए किसी भी कम्युनिकेशन को लीक नहीं की जा सकती है। हालांकि, पिछले साल दुनियाभर के 1,400 से ज्यादा लोगों के WhatsApp डाटा में सेंध लग गया था। जिसकी वजह से भारत ही नहीं, दुनियाभर के कई नामी-गिरामी लोगों जैसे कि ब्यूरोक्रेट्स, खोजी पत्रकार आदि के अकाउंट हैक कर लिए गए थे।

WhatsApp ने पिछले दो साल से ऐप में कई नए फीचर्स जोड़े हैं। इन फीचर्स को खास तौर पर यूजर प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए जोड़े गए हैं। इस साल भी WhatsApp में कई नए फीचर्स जोड़े जा सकते हैं, जिनमें डार्क मोड फीचर खास है। इस फीचर को बीटा वर्जन के लिए पहले ही रोल आउट किया जा चुका है। जल्द ही, इसे नेन वर्जन के लिए भी रोल आउट किया जा सकता है। 

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस