नई दिल्ली, टेक डेस्क। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सोशल मीडिया को लेकर बड़ा बयान दिया है। ओबामा ने लंबे वक्त के बात अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि सोशल मीडिया लोकतंत्र के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र को बर्बाद करने के लिए बेहद अच्छे से डिजाइन किया जाता है। ओबामा ने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक इवेंट में बोलते हुए कहा कि मौजूदा दौर आने वाले इतिहास के लिए खतरनाक हो सकता है। उन्होंने कहा कि दुष्प्रचार हमारे लोकतांत्रिक समाज के लिए बेहद खतरनाक है। अगर हमने एक साथ आगे आकर इस ओर काम नहीं किया, तो यह हमारे लोकतंत्र को कमजोर करने का काम करेगा।

यूक्रेन घुसपैठ और रूस चुनाव का किया जिक्र 

बता दें कि ओबामा ने 44वें राष्ट्रपति के तौर पर 2009 से 2017 तक देश की कमान संभाली। उन्होंने इस दौरान साल 2016 में रुस के चुनाव में दखल और यूक्रेन में घुसपैठ का जिक्र किया। ओबामा ने जोर देकर कहा कि पुतिन और स्टीव बैनन (डोनाल्ड ट्रम्प के वरिष्ठ सलाहकार) जैसे लोग समझते हैं कि लोकतांत्रिक संस्थानों को कमजोर करने के लिए सोशल मीडिया से गलत सूचनाएं फैलाने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के दौरान में लोगों तक गलत सूचनाएं फैलाने के लिए बस आपको लोगों को कंफ्यूज करने की जरूरत है। आपको बस खूब सारे प्रश्न उठाने होंगे। समाज में गंदगी फैलानी होगी, साजिश रचने की योजना बनानी होगी, जिससे लोकतांत्रिक देश के नागरिकों को पता न चले कि क्या करना है।

सही और गलत के बीच अंतर करना मुश्किल 

ओबामा ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनियां जैसा दिखा रही है, क्या हम उसे दोहरा रहे हैं, अगर ऐसा है, तो अभी देर नहीं हुई है। लोगों को दूसरे विकल्प पर भी विचार करना चाहिए। ओबामान ने इंटरनेट पर हावी होने वाली कंपनियों का भी जिक्र किया। ओबामा ने कहा कि मौजूदा दौर की सोशल मीडिया के दौर में सही और गलत, संघर्ष और सहयोग के बीच जोरदार टक्कर हो रही है। इसलिए ऐसा फील हो रहा है कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को कुछ ऐसे डिजाइन किया गया है, जो हमें गलत दिशा में झुका रही हैं। जिससे नतीजे सभी के सामने हैं।

Edited By: Saurabh Verma