नई दिल्ली, टेक डेस्क। सोशल मीडिया Facebook और Twitter के यूजर्स का डाटा कुछ एंड्रॉइड ऐप डेवलपर्स के पास देखा गया है। इन कंपनियों ने यह माना है कि हजारों यूजर्स का डाटा गलत तरीके से Google Play Store पर मौजूद थर्ड-पार्टी ऐप्स द्वारा एक्सेस किया जा रहा था। यूजर्स ने जब भी इस तरह की ऐप्स में लॉगइन किया था तब उनका डाटा ऐप्स द्वारा एक्सेस किया गया था। सिक्योरिटी रिसर्चर्स की मानें तो One Audience और Mobiburn सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किट्स (SDK) को यूजर डाटा का एक्सेस दिया गया था। इसमें इमेल एड्रेस, यूजरनेम और रीसेंट ट्विट्स जैसे जानकारियां मौजूद हैं। Twitter और Facebook ने कहा है कि वो यूजर्स को इस बात की जानकारी देंगी कि ऐप्स द्वारा कौन-सी जानकारी शेयर की गई है।

Twitter ने एक बयान में कहा कि हमे हाल ही में एक रिपोर्ट मिली है जिसमें बताया गया है कि One Audience मालवेयर से प्रभावित मोबाइल सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किट (SDK) को मैंटेन कर रही है। कंपनी ने यूजर्स को जानकारी देते हुए कहा है, “हमें लगता है कि यह हमारी जिम्मेदारी है कि जो घटनाएं आपके अकाउंट या निजी डाटा को प्रभावित करती हैं इसकी जानकारी आपको होनी चाहिए।”

The Verge पर दी गई एक जानकारी के मुताबिक, Facebook ने जांच करने के बाद कंपनी ने अपने प्लेटफॉर्म से इस तरह की ऐप्स को रीमूव कर दिया है जो उनके प्लेटफॉर्म की पॉलिसी का उल्लंघन करती हैं। One Audience और Mobiburn के खिलाफ सीज और डीसीस्ट लैटर जारी किया है। One Audience और Mobiburn के खिलाफ सीज और डीसीस्ट लैटर जारी किया है। देखा जाए तो इससे iOS प्लेटफॉर्म प्रभावित नहीं है।

Twitter के मुताबिक, यह समस्या कंपनी की तरफ से नहीं हुई है। बल्कि यह ऐप में मौजूद SDKs के बीच के अंतर की वजह से है। हमारे पास इस बात का सबूत है कि इस SDK को कुछ एंड्रॉइड यूजर्स का निजी डाटा एक्सेस करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था। लेकिन iOS वर्जन को लेकर हमारे पास कोई सबूत नहीं है।

Posted By: Shilpa Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप